जॉब्स/एजुकेशनराष्ट्रीय

देशभर में आयोजित होगी जेईई मेन परीक्षा, इस बार बदल दिए गए एंट्री के नियम

आज 1 सितंबर 2020 से जेईई मेन्स के लिए एग्जाम शुरू हो गए

नई दिल्ली: आज 1 सितंबर 2020 से जेईई मेन्स के लिए एग्जाम शुरू हो गए हैं. सुप्रीम कोर्ट की मुहर लगाने के बाद एग्जाम का रास्ता साफ हो गया था. हालांकि अभी कुछ नेताओं ने सुप्रीम कोर्ट से आग्रह किया कि इस पर एक बार दोबारा विचार किया जाए और एग्जाम को स्थगित कर दिया जाए.

जेईई मेन्स एग्जाम में शामिल होने वाले प्रत्येक परीक्षार्थी को केंद्र पर कोविड-19 से संबंधित स्वघोषणा पत्र देना होगा. परीक्षार्थी के तापमान की जांच के बाद उसे तीन लेयर वाला मॉस्क उपलब्ध दिया जाएगा, परीक्षा के दौरान इसी मॉस्क का प्रयोग करना होगा.

ऐसे मिलेगा एग्जाम हॉल में प्रवेश

स्टेप 1: उम्मीदवार सुबह 11 बजे से अपने अपने बैचों में रिपोर्ट करेंगे.

स्टेप 2: रजिस्ट्रेशन रूम के बाहर उम्मीदवारों का तापमान थर्मल गन द्वारा लिया जाएगा.

स्टेप 3: यदि तापमान (<37.4 डिग्री सेल्स‍ियस / 99.4 ड‍िग्री फारेनहाइट) है तो उन्हें आगे तलाशी के लिए भेजा जाएगा.

उम्मीदवार को बुखार है तो…

अगर चेकिंग के दौरान ये सामने आता है कि उम्मीदवार का तापमान ( 37.4 डिग्री सेल्स‍ियस / 99.4 ड‍िग्री फारेनहाइट) से ज्यादा है तो उन्हें आइसोलेशन रूम में ले जाया जाएगा. उसके बाद तलाशी और दस्तावेज़ सत्यापन की सभी प्रक्रियाएं 15-20 मिनट की अवधि के बाद की जाएंगी. अगर इस दौरान उनका तापमान सामान्य होता है तो ठीक वरना उन्हें अलग कमरे में अकेले परीक्षा देने की अनुमति नहीं दी जाएगी.

तलाशी का तरीका भी इस बार हाइटेक रखा गया है. अभ्यथी को इस बार कोई भी छूकर तलाशी नहीं लेगा. अभ्यर्थी के एडमिट कार्ड, वैध सरकारी आईडी प्रूफ, पीडब्ल्यूडी प्रमाण पत्र (यदि पीडब्ल्यूडी उम्मीदवार), स्क्रिब डबिंग (यदि सूचना बुलेटिन में दिए गए प्रोफार्मा में लागू हो) को टेबल पर ड्यूटी के दौरान पर्यवेक्षक को दिखाना होगा.

उचित सत्यापन के बाद इनविज‍िलेटर सीट आवंटन चार्ट देखकर रोल नंबर के अनुसार उन्हें उनके परीक्षा कक्ष में पहुंचाएगा. रजिस्ट्रेशन रूम के बाहर ड्यूटी पर मौजूद निरीक्षक यह सुनिश्चित करता है कि छात्र 10 (पहले) और फिर अगले पांच छात्रों के बैचों में पंजीकरण कक्ष में प्रवेश करेंगे.

न ले जाएं कोई अन्य सामान

NTA ने इस साल उम्मीदवारों के स्वास्थ्य और सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए COVID-19 को लेकर भारत सरकार के दिशा-निर्देशों को पूरी तरह से लागू किया है. एग्जाम के दौरान भी सोशल डिस्टेंसिंग का रूल सख्ती से फॉलो होगा. एनटीए ने स्पष्ट कर दिया है कि परीक्षा के दौरान उम्मीदवार लिस्ट में शामिल एलाउड चीजों को छोड़कर कुछ भी लेकर न जाएं. क्योंकि यहां स्टोर करने की व्यवस्था नहीं है. अपरिहार्य स्थ‍िति में ये आपके जोख‍िम पर वहां जमा की जाएंगी.

इस साल उम्मीदवारों को परीक्षा कक्ष में प्रवेश के लिए टाइम स्लॉट दिए गए हैं. इसलिए अगर आप इस बार परीक्षा देने जा रहे हैं तो अपने एडमिट कार्ड में दिए गए टाइम स्लॉट को जरूर ध्यान रखें. आपको सेंटर पर अपने टाइम स्लॉट से रिपोर्टिंग टाइम पर पहुंचना अन‍िवार्य होगा. यहां आपको तमाम जांचों से गुजरना होगा.

आपको परीक्षा केंद्रों पर सेनेटाइजर और मास्क भी द‍िए जाएंगे. आपको यही मास्क पहनकर एग्जाम देना होगा. परीक्षा कक्ष में प्रवेश से पहले भी आपको छह फीट की सोशल ड‍िस्टेंसिंग को फॉलो करना होगा. एनटीए की ओर से कहा गया है क‍ि परीक्षा केंद्रों में अभ‍िभावकों को लेकर न पहुंचें. परीक्षा केंद्रों के बाहर भीड़ से बचाव के ल‍िए इस तरह के कदम उठाए गए हैं.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button