जेईई मेन का परिणाम घोषित, जानें कब से होगी काउंसलिंग

नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) ने जेईई-मेन, 2021 के चारों चरणों का फाइनल रिजल्ट मंगलवार मध्यरात्रि को जारी कर दिया। इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षाओं में पहली बार जेईई-मेन, 2021 के चार चरणों में कुल 44 विद्यार्थियों ने 100 परसेंटाइल एनटीए स्कोर अर्जित करने का रिकॉर्ड बनाया है। जेईई-मेन की मेरिट सूची में 18 विद्यार्थी ऑल इंडिया टॉपर्स बने हैं, जिसमें राजस्थान के 3, आंध्र प्रदेश के 4, उत्तर प्रदेश, तेलंगाना व दिल्ली के 2-2, बिहार, पंजाब, चंडीगढ़ एवं कर्नाटक के 1-1 विद्यार्थी ने ऑल इंडिया रैंक-1 पर सफलता का पचरम लहराया।

अनियमितताओं की शिकायतों के चलते लेट हुआ रिजल्ट

चौथे चरण की परीक्षा में कुछ परीक्षा केंद्रों पर अनियमितताओं की शिकायतें उजागर होने पर सीबीआई ने त्वरित कार्रवाई करते हुये कुछ परीक्षा केंद्रों पर छापेमारी की कार्रवाई की। जिसमें फर्जी नाम से पेपर दिलवाने वाले तीन दलालों की गिरफ्तारी कर ली गई। इस कार्रवाई के कारण रिजल्ट देरी से घोषित हो सका।

ऑनलाइन और सेल्फ स्टडी के दम पर विद्यार्थियों ने किया शानदार प्रदर्शन

जेईई-मेन परीक्षा के पहले चरण में 6.20 लाख, दूसरे चरण में 6.80 लाख, तीसरे चरण में 6.09 लाख एवं चौथे चरण में कुल 7.32 लाख विद्यार्थी पंजीकृत हुये थे। जबकि गत वर्ष 9.34 लाख विद्यार्थी पंजीकृत थे। इस तरह गत वर्ष की तुलना में इस वर्ष 2 लाख कम परीक्षार्थियों ने पेपर दिया है। हालांकि कोरोना महामारी को देखते हुये एनटीए ने परीक्षार्थियों को राहत देते हुये जेईई-मेन पेपर-1 में प्रश्नों की संख्या 90 से घटाकर 75 तथा पेपर 360 अंकों के स्थान पर 300 अंकों का कर दिया था। पूरे वर्ष देशभर में क्लासरूम कोचिंग संस्थान बंद होने से सभी विद्यार्थियों ने ऑनलाइन कोचिंग व मॉक टेस्ट देकर सेल्फ स्टडी से सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर दिखाया है।

अब 3 अक्टूबर को होगी जेईई-एडवांस्ड की परीक्षा

इस परीक्षा में शीर्ष स्कोर से क्वालिफाई 2.50 लाख विद्यार्थी अब 3 अक्टूबर को होने वाली जेईई-एडवांस्ड परीक्षा देंगे। इसके लिये आईआईटी खडगपुर द्वारा 15 सितंबर से ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया प्रारंभ कर दी जायेगी। इस वर्ष कोरोना के कारण एनटीए ने प्रवेश परीक्षा की प्रक्रिया में शिथिलता देते हुये परसेंटाइल आधार पर बेस्ट स्कोर घोषित किया है। जिससे 75 से 99 परसेंटाइल प्राप्त करने वाले विद्यार्थी भी 31 एनआईटी के बीटेक कोर्सेस में दाखिले ले सकेंगे। 99 से 100 परसेंटाइल प्राप्त करने वाले विद्यार्थी जेईई- एडवांस्ड के जरिये 23 आईआईटी में प्रवेश लेने का प्रयास करेंगे।

जल्द शुरू होगी जोसा काउंसलिंग

ज्वाइंट सीट आवंटन अथॉरिटी (जोसा) द्वारा ऑनलाइन काउंसलिंग प्रक्रिया जल्द प्रारंभ कर दी जायेगी, जिसमें देश के 31 एनआईटी की 23,506 सीटें, 28 त्रिपल आईटी की 5643 सीटें एवं 25 से अधिक केंद्र वित्त पोषित संस्थानों की 5620 सीटें सहित 107 से अधिक राष्ट्रीय स्तर संस्थानों की कुल 50,822 से अधिक सीटों के लिये ऑल इंडिया रैंक के आधार पर विभिन्न यूजी कार्सेस की सीटें आवंटित की जायेंगी। याद दिला दें कि देश में सरकारी संस्थानों के अतिरिक्त 1246 प्रमुख इंजीनियरिंग कॉलेज हैं, जो जोसा काउंसलिंग में भाग नहीं लेते हैं, लेकिन जेईई-मेन के स्कोर के आधार पर प्रवेश देते हैं।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button