जेईई मेंस का रिजल्ट 30 को आएगा, 3 मई से एडवांस्ड की प्रक्रिया

भिलाई। ज्वॉइंट एंट्रेंस एग्जाम (जेईई) एडवांस्ड के लिए आईआईटी रुड़की ने रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया शुरू कर दी है। फिलहाल सिर्फ फॉरेन नेशनल्स के लिए रजिस्ट्रेशन लिंक खुली है। जेईई मेन के जरिए रजिस्ट्रेशन करवाने वाले स्टूडेंट्स 3 मई से आवेदन कर सकेंगे। हाल ही में जारी किए गए नोटिफिकेशन में आईआईटी रुड़की ने रजिस्ट्रेशन के मापदंडों की भी जानकारी दी है।

रजिस्ट्रेशन के नए नियमों के अनुसार जिन स्टूडेंट्स ने इससे पहले आईआईटी की एडमिशन प्रक्रिया में मिली सीट एक्सेप्ट की थी, लेकिन बाद में कॉलेज ज्वॉइन नहीं किया था, ऐसा कोई भी कैंडिडेट इस साल आईआईटी में एडमिशन नहीं ले पाएगा। जेईई एडवांस्ड में शामिल होने के लिए फॉरेन नेशनल्स को जेईई मेन क्वालिफायर करना आवश्यक नहीं है। वे सीधे रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं। अधिक जानकारी के लिए वेबसाइट विजिट भी कर सकते हैं।

2.45 लाख से ज्यादा कैंडिडेट्स शामिल होंगे

नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) वैसे तो जेईई मेन के 2 लाख 45 हज़ार कैंडिडेट्स को एडवांस्ड के लिए प्राथमिकता मिलेगी, लेकिन इस बार एडवांस्ड में शामिल होने वाले कैंडिडेट्स कि वास्तविक संख्या इससे भी ज्यादा होगी। कई कैंडिडेट्स की रैंक एक ही होने के कारण यह संख्या बढ़ेगी। एडवांस्ड में सिर्फ वे ही स्टूडेंट्स शामिल हो सकेंगे जिनका जन्म 1 अक्टूबर 1994 को या उसके बाद हुआ हो। दुर्ग-भिलाई से इस बार छात्रों की संख्या बढ़ सकती है। इस संबंध में निर्देश दिए गए हैं।

कल आएगा जेईई मेन का रिजल्ट

30 अप्रैल को नेशनल टेस्टिंग एजेंसी द्वारा जेईई मेन-2019 की घोषणा करेगा। मंगलवार 30 अप्रैल को पहले पेपर के परिणामों की घोषणा होगी और इसके 15 दिन बाद दूसरे पेपर का रिजल्ट घोषित होगा। जेईई मेन पेपर-2 की घोषणा 15 मई को की जाएगी। बता दें कि एनटीए ने जेईई मेन की परीक्षा का आयोजन 7 अप्रैल 2019 से 20 अप्रैल 2019 तक किया था। इस संबंध में तैयारी चल रही है।

दुर्ग-भिलाई के छात्रों पर इस बार भी रहेगी नजर

जेईई मेंस और एडवांस्ड में हर साल दुर्ग-भिलाई के छात्रों का दबदबा रहा है। इस साल भी ट्विनसिटी के स्टूडेंट्स पर सबकी नजर है। एक्सपर्ट्स की माने तो इस बार आईआईटी में जाने के लिए एग्जाम देने वालों की संख्या बढ़ी है। पिछले साल भी यहां के छात्रों ने प्रदेश में परचम लहराया था। एक्सपर्ट्स की माने तो इस साल क्रैश कोर्स की तैयारी में अन्य जिलों के छात्रों ने भिलाई को पंसद किया है। लगातार भिलाई आकर पढ़ाई करने वालों की संख्या में बढ़ोत्तरी हो रही है।

Back to top button