JNU में बनेगी स्वामी विवेकानंद की प्रतिमा, धन स्रोत के लिए हुए चिंतित

पंडित जवाहर लाल नेहरू की प्रतिमा के सामने होगी स्थित

नई दिल्ली:

कार्यकारी परिषद् ने पिछले वर्ष जुलाई में जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में स्वामी विवेकानंद की प्रतिमा निर्माण के लिए मंजूरी दी थी जिसके बाद एक समिति बनाई गई थी. सूत्रों ने कहा कि प्रतिमा प्रशासनिक खंड के दाहिनी ओर पंडित जवाहर लाल नेहरू की प्रतिमा के सामने स्थित होगी.

अब जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में जल्द ही स्वामी विवेकानंद की प्रतिमा बनेगी जिसे लेकर छात्र संघ और शिक्षक संघ आश्चर्य जता रहे हैं कि इसके लिए धन कहां से आएगा.

जेएनयू के छात्र संघ और शिक्षक संघ ने पूछा है कि प्रतिमा निर्माण के लिए धन का स्रोत क्या है. उन्होंने कहा कि एक तरफ विश्वविद्यालय के पास पुस्तकालय और छात्रों को छात्रवृत्ति देने के लिए धन नहीं है और दूसरी तरफ वह प्रतिमाएं बनाने में व्यस्त है.

JNU किसी न किसी वजह से लगातार विवादों में रहता है. पिछले साल JNU के वाइस चांसलर एम जगदीश कुमार ने सरकार से यूनिवर्सिटी कैंपस में एक टैंक खड़ा करने की मांग की थी.

कुमार के मुताबिक यह टैंक जेएनयू स्टूडेंट्स में सेना के प्रति प्रेम की भावना जगाएगा. गौरतलब, है कि जेएनयू के भीतर कई बार विवाद हो चुका है और वहां के कुछ छात्रों पर देश विरोधी गतिविधियों में शामिल होने का आरोप भी लगा था. उन पर अभी मामला भी चल रहा है और दिल्ली पुलिस की जांच जारी है.

1
Back to top button