पत्रकारों को अपने पाठकों के प्रति विश्वसनीय व निष्ठावान होना होगा – निकोलस नोवेक

कुशाभाऊ ठाकरे पत्रकारिता एवं जनसंचार विश्वविद्यालय में संबोधित कर रहे थे

रायपुर :

यूएस के कॉन्स्लेट के सूचना अधिकारी व प्रवक्ता निकोलस नोवेक कुशाभाऊ ठाकरे पत्रकारिता एवं जनसंचार विश्वविद्यालय के जनसंचार विभाग द्वारा आयोजित विशेष व्याख्यान में बतौर मुख्य वक्ता संबोधित कर रहे थे.

तभी उन्होने कहा पत्रकारों को अपने पाठकों के प्रति विश्वसनीय व निष्ठावान होना होगा. पत्रकार का लेखन जनता और सरकार के बीच सेतू का काम करता है. यह कहना था

उन्होंने पत्रकारिता के विभिन्न आयामों पर अपनी बात रखते हुए कहा कि प्रिंट मीडिया ही पत्रकरिता का आधार है. लेकिन भविष्य में रेडियो लोगों के बीच अधिक संबंध स्थापित कर पायेगा. जिसमें ध्वनि का प्रभाव लोगों के बीच अधिक होता है.

उन्होंने कहा कि अभी भारत में निजी रेडियो चैनल्स को समाचार प्रसारित करने की स्वतंत्रता नहीं है लेकिन धीरे-धीरे निजी रेडियो पर भी समाचार प्रसारित होने लगेंगे.

नोवेक ने कहा कि केवल तथ्यों की जानकारी देना ही पत्रकारिता नहीं होती बल्कि उन तथ्यों का गहराई में जाकर विश्लेषण कर खबर बनाना वास्तविक प़़त्रकारिता हैं. इस मौके पर विभाग के छात्र- छात्राओं ने भी पत्रकारिता की वर्तमान स्थिति पर सवाल किए जिनका समाधान निकोलस ने किया.

जनसंचार एवं समाज कार्य विभागाध्यक्ष डॉ. शाहिद अली ने निकोलस नोवेक का परिचय छात्रों को दिया व निकोलस द्वारा विश्वविद्यालय के पुस्तकालय को भेंटस्वरूप दी गई पुस्तक वाशिंगटन डीसी ए पिक्टोरियल सेलीब्रेशन को स्वीकार किया.

निकोलस नोवाक ने विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. (डॉ.) मानसिंह परमार से भी मुलाकात की कुलपति प्रो. परमार ने निकोलस को शाल श्रीफल व केटीयू न्यूज की प्रति देकर सम्मानित किया. आभार प्रदर्शन पीएचडी शोधार्थी के एन किशोर ने किया.

इस मौके पर यू एस कॉन्स्लेट के मीडिया एडवाइजर सुमेधा रैकवार, डॉ. अनुपमा कुमारी, डॉ. कीर्ति सिसौदिया, रूख्सार परवीन, विनोद सावंत, रितुलता तारक, शांशक शुक्ला, जूलियट मोटवानी, नर्गिस बानो, रश्मी तिवारी, अभिषेक गोस्वामी, कुमार टोप्पो व समस्त छात्र- छात्राएं मौजूद रहे.

Back to top button