सिर्फ 1 रुपया और उतारे बुरी से बुरी नजर, कैसे जानिए

आइए जानते हैं नजर से जुड़ी 7 खास बातें

नजर लगने पर विश्वास करना न करना एक अलग बात है लेकिन हमें अपनी दादी-नानी से पता चलता है कि वे नजर उतारने के लिए क्या-क्या जतन करती रहीं हैं। इस जतन में राशि सिर्फ 1 रुपया ही लगती है… आइए जानते हैं नजर से जुड़ी 7 खास बातें….

1 . यदि किसी बच्चे नजर लग जाती है तो वह अचानक रोना प्रारंभ कर देता है और खाना अथवा दूध पीना छोड़ देता है। ऐसे में दो सूखी लाल मिर्च, थोड़ा सेंधा नमक और कुछ सरसों के दाने लें।

इसके बाद बच्चे के ऊपर से नीचे की ओर तीन बार घुमाएं। इसके बाद ये सब जला दें। जलने पर जब धुआं उठने लगता है तब थोड़ी ही देर में नजर का बुरा असर समाप्त हो जाता है।

2.एक रुई की बाती लें और उसे सरसों के तेल में डुबो दें तत्पश्चात उस बाती को बच्चे के ऊपर से तीन बार उतारें और फिर बिना टोके उसे जला दें। जब वो बाती पूर्ण रूप से जल जाएगी तब बच्चे पर से बुरी नजर का असर भी समाप्त हो जाएगा।

3. यदि आपके व्यवसाय को नजर लग जाती है तो शनिवार के दिन एक हरे नींबू को अपने ऑफिस की चारों दीवारों से स्पर्श कराएं और तत्पश्चात उस नींबू के चार टुकड़े कर चारों दिशाओं में फेंक दें। इससे आपके व्यापार में लगी बुरी नजर जल्द ही उतर जाएगी।

4. यदि आपके व्यापार को नजर लग जाती है तो आप लोहे की चार कीलें लेकर अपने व्यवसाय स्थल के चारों कोनों में ठोंक दें ऐसा करने से आपके व्यापार में लगी बुरी नजर का असर समाप्त हो जाता है।

5. यदि आपके घर को किसी की बुरी नजर लग गई है तो शुक्रवार के दिन अशोक के पत्तों का बंधन वार बनाकर घर के मुख्य द्वार पर टांग दें। ऐसा करने से घर में सकारात्मक ऊर्जाओं का संचारण होता है, तथा बुरी नजर का दोष समाप्त हो जाता है।

6. शनिवार के दिन काले घोड़े की नाल को सरसों के तेल में भिगोकर शनिदेव के मंत्रों के उच्चारण से उसका पूजन करें और तत्पश्चात घर के मुख्य द्वार पर टांग दें इससे आपके घर को बुरी नजर नहीं लगेगी।

7. बच्चे बड़े कोमल होते हैं इसलिए उनकी नजर भी कोमल और मीठी चीजों से ही उतारी जाती है। पानी, दूध, फूल या शकर से बच्चों की नजर ऊतारना सही होता है। भग वान के मंदिर में रखे पानी के कलश से 7 बार उल्टे क्रम से नजर उतारें और किसी भी पौधे में वह पानी चढ़ा दें।

इसी तरह भगवान पर चढ़े फूल से भी बच्चे की नजर उतारी जाती है। शकर से नजर उतारने के लिए आप दोनों मुट्ठी में शकर भर लें और बच्चे के सिर से दोनों हाथ अपनी अपनी दिशा में घुमाएं.. . 11 बार ऐसा कर के शकर भरी मुट्ठियां को वॉश बेसिन में तेज धार की नल में गला दें… नजर भी बह जाएगी।

1
Back to top button