18 नवंबर को मुख्य न्यायाधीश पद की शपथ लेंगे जस्टिस शरद अरविंद बोबडे

मप्र हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश रह चुके जस्टिस बोबडे

नई दिल्ली: राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने जस्टिस शरद अरविंद बोबडे की नियुक्ति को मंजूरी दे दी। 63 वर्षीय जस्टिस बोबडे 23 अप्रैल 2021 को रिटायर होंगे। और 18 नवंबर को मुख्य न्यायाधीश पद की शपथ लेंगे

नए चीफ जस्टिस की नियुक्ति की प्रक्रिया के तहत मौजूदा मुख्य न्यायाधीश अपने रिटायरमेंट से एक महीना पहले उनके नाम का प्रस्ताव कानून मंत्रालय को भेजते हैं। कानून मंत्री इसे प्रधानमंत्री के सामने रखते हैं।

जो इस मामले में राष्ट्रपति को सलाह देते हैं। मौजूदा चीफ जस्टिस गोगोई ने 3 अक्टूबर, 2018 को 46वें मुख्य न्यायाधीश पद के रूप में शपथ ली थी। उनका कार्यकाल 13 महीने 15 दिन का है। वे 17 नवंबर को रिटायर हो रहे हैं।

जस्टिस बोबडे का जन्म 24 अप्रैल 1956 में महाराष्ट्र के नागपुर में हुआ था। उन्होंने नागपुर यूनिवर्सिटी से ही कानून की डिग्री ली। इसके बाद 2000 में बॉम्बे हाइकोर्ट के अतिरिक्त न्यायाधीश नियुक्त हुए थे।

फिर 2012 में मध्य प्रदेश हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश का पद संभाला था। अप्रैल 2013 में उन्हें सुप्रीम कोर्ट में नियुक्ति दी गई। जस्टिस बोबडे सीजेआई गोगोई के खिलाफ यौन उत्पीड़न के आरोपों की जांच के लिए बनी समिति में शामिल थे।

Back to top button