कादर खान के आखिरी पल याद कर भावुक हुए उनके बेटे

उन्होंने अपनीे प‍िता कादर खान संग आख‍िरी मुलाकात के पल साझा किए.

बॉलीवुड में अपनी शानदार डायलॉग डिलीवरी के लिए मशहूर रहे महान अभिनेता कादर खान के निधन से पूरा बॉलीवुड गमजदा है.

उन्होंने 300 से भी ज्यादा फिल्मों में एक एक्टर और 200 फिल्मों में डायलॉग राइटर के तौर पर काम किया. वे पिछले काफी समय से बीमार चल रहे थे.

कनाडा में कादर खान को अंतिम विदाई देते हुए उनके बेटे सरफराज खान काफी इमोशनल नजर आए. उन्होंने अपनीे प‍िता कादर खान संग आख‍िरी मुलाकात के पल साझा किए.

सरफराज ने इंटरव्यू के दौरान कहा कि मेरी कोशिश ये है कि जो इज्जत और मोहब्बत पापा छोड़ कर गए हैं उसे अगर मैं बढ़ा नहीं सकता तो घटाऊं भी नहीं.

मेरे वालिद साहब बहुत पैसे वाले आदमी थे मगर असल जिंदगी में वे एकदम फकीर की तरह रहते थे. उनको दुनिया की चीजों का ज्यादा शौक नहीं था.

किसी की भी मदद को आगे रहते थे. वे सबको साथ लेकर चलते थे. वे कहते थे कि बेटा लाइफ में ब्रिज बन कर रहना है. सभी को एक साथ लेकर चलना है. अब वे हमारे बीच नहीं हैं मगर उनकी यादें रह गई हैं.

अंतिम मुलाकाता का जिक्र करते हुए सरफराज भावुक हो गए. ”सरफराज ने बताया कि वे बस सिर पर हाथ रखते थे और चूमते थे.

जब उनसे पूछा गया कि अंतिम बार दोनों के बीच क्या बात हुई तो सरफराज ने भावुक होते हुए कहा कि पापा के तरफ मैंने अपना गाल आगे बढ़ाया वे मुझे हमेशा की तरह चूमने की कोशिश कर रहे थे मगर वे चूम नहीं पाए. ये कहते हुए सरफराज रोने लग गए.

उनके निधन से पूरी फिल्म इंडस्ट्री शोकग्रस्त है. वे जिसके साथ काम करते थे उसकी कमियों को सुधारने की कोशिश करते थे. उनसे काफी कुछ सीखने को मिलता था.

बॉलीवुड से डेविड धवन का फोन आया. जाहें शक्ति कपूर हो या गोविंदा हो सभी दुखी हैं. बता दें 1 जनवरी 2019 को कादर खान का लंबी बीमारी के बाद न‍िधन हो गया.

 

1
Back to top button