रायपुर पहुंची कंगना रनौट, जोगी कांग्रेस ने दिखाया काला झंडा

राज्य सरकार प्रदेश में 50 लाख स्मार्ट फोन बांट रही है।

रायपुर। बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत सोमवार को रायपुर पहुंच गई है। वह यहां मुख्यमंत्री रमन सिंह की संचार क्रांति योजना के तहत स्मार्ट फोन वितरण कार्यक्रम का शुभारंभ करेंगी।

बूढ़ा तालाब स्थित इंडोर स्टेडियम में कार्यक्रम आयोजित किया जाना है। दरअसल, राज्य सरकार प्रदेश में 50 लाख स्मार्ट फोन बांट रही है। इसमें 40 लाख स्मार्ट फोन ग्रामीण परिवारों को,

5 लाख शहरी गरीब परिवारों को और बाकी 5 लाख कॉलेजों में अध्ययनरत छात्रों को देने का लक्ष्य तय किया गया है। सोमवार को सरकारी और निजी विश्वविद्यालयों, कॉलेजों के छात्रों को मोबाइल बांटेंगे।

– कार्यक्रम में लाभार्थियों को निशुल्क स्मार्टफोन के साथ सिम कार्ड दिया जाएगा। इस फोन में 6 माह तक लगभग 149 रुपए प्रतिमाह बाजार मूल्य का 1 जीबी डेटा तथा 100 मिनट का कॉल टाइम भी निशुल्क प्रदान किया जा रहा है।

जोगी कांग्रेस ने दिखाए काले झंडे, हुई गिरफ्तारी
-कार्यक्रम की शुरुआत से पहले इंडोर स्टेडियम के बाहर जागी कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने काले झंडे दिखाए। पुलिस ने कार्यकर्ता से झंडा छीन लिया और उनकी गिरफ्तारी कर जेल भेज दिया गया।

शॉर्ट सर्किट से लगी आग, पाया काबू
-कार्यक्रम शुरू होने से पहले शॉर्ट सर्किट से आग लग गई। आग पर तुरंत काबू पाया गया। इस दौरान भगदड़ जैसी स्थित भी हो गई थी।

ऐसा है फोन का फीचर
– इस योजना में दो तरह के स्मार्टफोन का वितरण किया जा रहा है। विद्यार्थियों को दिए जाने वाले स्मार्ट फोन में 2 जीबी रैम, 1.4 गीगाहर्ट्ज का प्रोसेसर, 16 जीबी स्टोरेज,

5 मेगा पिक्सल का फ्रंट व 8 मेगा पिक्सल का बैक कैमरा, 5 इंच की स्क्रीन है। बाकी के हितग्राहियों को दिए जाने वाले स्मार्टफोन में 1 जीबी रैम, 1.2 गीगाहर्ट्ज का प्रोसेसर, 8 जीबी स्टोरेज, 2 मेगा पिक्सल का फ्रंट व 5 मेगा पिक्सल का बैक कैमरा, 4 इंच की स्क्रीन है।

कांग्रेस कर रही है विरोध
– कांग्रेस का कहना है कि सीएम मोबाइल बांटने के लिए बॉलीवुड की अभिनेत्री को क्यों बुला रहे हैं? उन्हें स्थानीय कलाकारों को बुलाना चाहिए। वहीं, मुख्यमंत्री का कहना है कि मोबाइल जियो का है और कंपनी ने ही कंगना का कार्यक्रम तय किया है।

– प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता घनश्याम राजू तिवारीभाजपा का यह कैसा राष्ट्रवाद है? मोबाइल चाइना मेड सिम अंबानी मेड। आखिर सरकार की प्रथम जिम्मेदारी शासकीय उपक्रमों को बढ़ावा देना होता है।

देश की सबसे बड़ी संचार सेवा भारत संचार निगम लिमिटेड बीएसएनएल के सिम कार्ड को क्यों नहीं वितरित किया जा रहा है? इससे प्रदेश में पुराने बीएसएनएल के उपभोक्ताओं को नए टॉवर लगने से वर्तमान में हो रही परेशानियों से समाधान भी मिल पाता।

दरअसल भारतीय जनता पार्टी व्यापारिक सोच की पार्टी है। जब भाजपा से देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जिओ सिम का प्रमोशन करते हैं तो रमन सिंह भला कैसे पीछे रह सकते हैं।

Back to top button