कांकेर : नाबालिग से दुष्कर्म के मामले में आरोपी को 10 साल की सजा

आखिरकार आरोपी से परेशान होकर पीड़िता ने दुधावा चौकी में घटना के संबंध में रिपोर्ट दर्ज करायी।

कांकेर। नाबालिग लड़की से दुष्कर्म करने के मामले में आरोपी युवक को न्यायालय ने दोष सिद्ध पाये जाने पर दस वर्ष सश्रम कारावास की सजा तथा 6 हजार रूपये अर्थदण्ड से दण्डित किया है।

अभियोजन पक्ष की ओर से न्यायालय में दर्ज प्रकरण के अनुसार दुधावा चौकी क्षेत्र के बांगाबारी की 15 साल की नाबालिग से दुष्कर्म किये जाने का मामला दर्ज हुआ था। उसी गांव के अभियुक्त प्रदीप कुमार मरकाम पिता दयालुराम उम्र 25 वर्ष ने पीड़िता को फोन कर पीड़िता के चाचा की बाड़ी में 10 नवंबर 2016 को बुलाया। जहां पर उसके साथ दुष्कर्म किया, जिसके बाद उसे जान से मारने की धमकी दी। कई बार उससे जबरन शारीरिक संबंध बनाता रहा।

आखिरकार आरोपी से परेशान होकर पीड़िता ने दुधावा चौकी में घटना के संबंध में रिपोर्ट दर्ज करायी। जिस पर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ दुष्कर्म के तहत जुर्म दर्ज कर 10 मई 2017 को उसे गिरफ्तार कर लिया। प्रकरण के विवेचना के बाद न्यायालय में अभियोग पत्र पेश किया।

विशेष न्यायाधीश पाक्सो एक्ट प्रशांत कुमार शिवहरे ने न्यायालय में प्रकरण के विचारण के दौरान प्रार्थिया के कथन एवं साक्षियों के कथन तथा परिस्थितिजन्य साक्ष्य के आधार पर अभियुक्त प्रदीप को पीड़िता के साथ जबर्दस्ती दुष्कर्म करने के मामले में दोषी पाते हुए भादवि की धारा 506 के तहत तीन वर्ष सश्रम कारावास एक हजार रूपये जुर्माना, पाक्सो एक्ट की धारा 6 में 10 वर्ष का कारावास तथा पांच हजार रूपये जुर्माना से दण्डित किया। शासन की ओर से मामले की पैरवी शासकीय अधिवक्ता संदीप श्रीवास्तव ने की।<>

1
Back to top button