कानपुर पुलिस ने ठगी के इस गिरोह का किया भंडाफोड़

कानपुर: कानपुर में एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है जहां एक गिरोह बेरोजगारों के अधार कार्ड और पैन कार्ड से स्कूटी और बुलेट फाइनेंस कराता था. बेरोजगार युवकों को लालच दिया जाता था कि उन्हें किस्ते नहीं देनी पड़ेगी और 20 हजार रुपए अलग से दिए जाएंगे.

इस गिरोह के सदस्य फाइनेंस कराई गई स्कूटी और बुलेट को प्रदेश के अन्य जनपदों में बेच देते थे. किदवई नगर पुलिस ने इस गिरोह का खुलासा किया है. इस मामले में पुलिस में तीन लोगों को गिरफ्तार किया है, इनके पास से 12 स्कूटी, तीन बुलेट बरामद हुई है.

पुलिस ने दीपक गुप्ता, अमित मनमानी और रूपेश महेश्वरी को गिरफ्तार किया है. इनके पास से 25 अधार और पैन कार्ड, 6 ब्लैंक चेक भी बरामद हुए हैं. पुलिस की पूछताछ में तीनों ने बताया कि गरीब बेरोजगार युवकों को अपना निशाना बनाते थे.

युवकों को झांसा देते थे कि अपने अधार और पैन कार्ड पर बाईक फाइनेंस करा लो और उसकी किस्त भी नहीं देनी पड़ेगी. अगर स्कूटी फाइनेंस कराओगे तो 15 हजार रुपए मिलेंगे. बुलेट फाइनेंस कराते हो तो 20 हजार रुपए मिलेंगे.

advt
Back to top button