कर्नाटक विधानसभा चुनाव: BJP ने खोले अपने कुछ पत्ते

कर्नाटक विधानसभा चुनाव नजदीक ही है, ऐसे में हर रोज सियासत के नए रंग भी देखने को मिल रहें हैं | चुनाव के लिए भाजपा ने अपने कुछ पत्ते खोल दिए हैं. कर्नाटक की कुल 224 विधानसभा सीटों में से भाजपा ने पहले चरण के तहत अपने 72 उम्मीदवारों का ऐलान कर दिया है.

कर्नाटक विधानसभा चुनाव नजदीक ही है, ऐसे में हर रोज सियासत के नए रंग भी देखने को मिल रहें हैं | चुनाव के लिए भाजपा ने अपने कुछ पत्ते खोल दिए हैं. कर्नाटक की कुल 224 विधानसभा सीटों में से भाजपा ने पहले चरण के तहत अपने 72 उम्मीदवारों का ऐलान कर दिया है. आज दिल्ली में भाजपा मुख्यालय में चार घंटे चली मैराथन बैठक में भाजपा हाईकमान ने इन नामों पर अपनी अंतिम मुहर लगा दी.

माना जा रहा कि ये सूची येदियुरप्पा ने अपने पसंदीदा उम्मीदवारों की भेजी थी. इनमें से शीर्ष नेतृत्व ने पहले चरण के तहत 72 नामों पर अपनी मंजूरी दे दी है. येदियुरप्पा खुद शिकारीपुर विधानसभा सीट से चुनावी मैदान में ताल ठोकेंगे.

भाजपा की केंद्रीय चुनाव समिति की आज दिल्ली में बैठक हुई. इस बैठक में पार्टी का पूरा फोकस कर्नाटक चुनाव ही था. कर्नाटक में भाजपा के सीएम उम्मीदवार येदियुरप्पा ने 140 उम्मीदवारों के नामों की सूची सौंपी थी.

मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने बीजेपी पर आरोप लगाया कि वह विभाजन की राजनीति करती है. उन्होंने कहा कि बीजेपी जाति और धर्म के आधार पर लोगों को विभाजित करने की कोशिश करती है, जबकि कांग्रेस ऐसा कुछ नहीं करती.

पार्टी विभाजन की राजनीति पसंद नहीं करती. टिकट बंटवारे को लेकर मुख्यमंत्री ने कहा कि टिकट उसी को दिया जाएगा जिसमें जीत की संभावना दिखेगी, साथ ही सामाजिक न्याय के आधार पर भी उम्मीदवारों का चयन किया जाएगा.

वहीं कर्नाटक में कांग्रेस की तैयारी के बारे में बात करें तो राहुल गांधी पिछले काफी समय से वहां सक्रिय हैं. राहुल तेजी से चुनाव प्रचार में जुटे हुए हैं. राज्य में सत्तारुढ़ कांग्रेस की सिद्धारमैया सरकार फिर से सत्ता में बने रहने की कोशिशों में जुटी है. हालांकि उसे इस बार भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) से कड़ी चुनौती मिल रही है. सिद्धारमैया का कहना है कि वे विकास के दम पर चुनाव मैदान में उतरेंगे और जीत हासिल करेंगे.

कर्नाटक की कुल 224 विधानसभा सीटों के लिए कांग्रेस 15 अप्रैल तक अपने उम्मीदवारों की सूची जारी कर सकती है. इसके लिए कांग्रेस की केंद्रीय चुनाव समिति की उम्मीदवारों के नाम को अंतिम रूप देने के लिए 11 अप्रैल से बैठकों का दौर शुरू हो रहा है. कांग्रेस महासचिव मधुसूदन मिस्त्री की अगुवाई में कांग्रेस स्क्रीनिंग कमेटी कर्नाटक के प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र के उम्मीदवारों की जांच पड़ताल करेंगे.

Back to top button