कर्नाटक: स्पीकर ने कहा, मेरा काम किसी को बचाना या हटाना नहीं

अध्यक्ष ने फैसला लेने के आदेश को रोकने की अपील की

बेंगलुरू: सुप्रीम कोर्ट ने बागी विधायकों को विधानसभा अध्यक्ष के सामने पेश होने के लिए कहा. इससे पहले अब कर्नाटक विधानसभा के अध्यक्ष केआर रमेश कुमार ने सर्वोच्च न्यायालय का रुख किया. अध्यक्ष ने न्यायालय द्वारा उन्हें 10 बागी विधायकों के इस्तीफे पर फैसला लेने के आदेश को रोकने की अपील की है.

वहीं विधासभा अध्यक्ष केआर रमेश कुमार से कर्नाटक के बागी कांग्रेस और जेडीएस विधायकों ने मुलाक़ात की. विधायकों से मुलाकात के बाद स्पीकर रमेश कुमार ने कहा कि मैं कोई गलती नहीं करना चाहता.

स्पीकर ने कहा मेरा काम किसी को बचाना या हटाना नहीं है. सुनवाई में देरी के आरोप से दुखी हूं. स्पीकर ने कहा – 8 विधायकों का इस्तीफा सही प्रारूप में नहीं था. मुझसे किसी विधायक ने मिलने का वक्त नहीं मांगा.’

कुमार ने कहा बागी विधायकों का इस्तीफा स्वीकारना एक बात है, जबकि उन्हें अयोग्य घोषित करना दूसरी बात है क्योंकि अयोग्य व्यक्ति उसी सदन में फिर से प्रवेश नहीं कर सकता. स्पीकर ने कहा, “विधायकों ने मुझसे कोई बातचीत नहीं की और सीधे राज्यपाल के पास पहुंच गए.

इस मामले में भला वह क्या कर सकते हैं? क्या यह दुरुपयोग नहीं है? वे सुप्रीम कोर्ट भी पहुंच गए.” कुमार ने कहा कि वह संविधान का सम्मान करते हैं और नियम के मुताबिक ही निर्णय लेंगे.

Back to top button