‘पद्मावती’ पर करणी सेना का बयान, ‘अगर गलत तथ्‍य दिखाए तो नहीं होने देंगे स्‍क्रीनिंग’

संजय लीला भंसाली की फिल्म ‘पद्मावती’ शुरुआत से ही करणी सेना का विरोध झेल रही है. चितौड़ की इस रानी पर बनी इस फिल्‍म का पहला पोस्‍टर गुरुवार को ही रिलीज हुआ है और पोस्‍टर के सामने आते ही राजस्‍थान की करणी सेना ने फिर से इस फिल्‍म के विरोध की बात कह दी है.

करणी सेना के फाउंडर लोकेंद्र सिंह कलवी ने अपने बयान में कहा है, ‘अगर फिल्म में गलत तथ्य दिखाए गए तो वो इसकी स्क्रीनिंग नहीं होने देंगे. करीब 20 दिन पहले भंसाली की टीम ने हम लोगों को मूवी देखने के लिए कहा था लेकिन हमने उनसे कहा कि फिल्म को इतिहासकारों और बुद्धिजीवियों को दिखाने के लिए कहा. इसके बाद से हमारी उनके कोई बात नहीं हुई.’

गुरुवार को इस फिल्‍म का पहला लुक सामने आया है जिसमें दीपिका पादुकोण रानी ‘पद्मावती’ के लुक में नजर आ रही हैं. पहले पोस्‍टर में दीपिका बेहद खूबसूरत लग रही हैं. लोकेंद्र सिंह कलवी ने अपने बयान में कहा, ‘हम किसी भी कीमत पर फिल्म में गलत तथ्य को दिखाने की इजाजत नहीं देंगे. अगर ऐसा कुछ हुआ तो हम आधे भारत में फिल्म की स्क्रीनिंग रोक देंगे.’

करणी सेना का कहना है कि उनके पास बहुत बड़ी लाइब्रेरी है. जिसकी कई किताबों में खिलजी वंश के बारे में लिखा गया है. लेकिन किसी भी किताब में ये नहीं लिखा कि 13वीं-14वीं सदी में दिल्ली सल्तनत के खिलजी वंश के एक शक्तिशाली शासक अलाउद्दीन खिलजी को पद्मावती से प्यार हुआ था या वह उनका प्रेमी था. करणी सेना के एक कार्यकर्ता ने कहा, ‘वे ऐतिहासिक तथ्यों को विकृत करके पद्मावती को बदनाम करने की कोशिश कर रहे हैं. यह स्वीकार्य नहीं है.’

करणी सेना ने इस फिल्‍म के प्रति पहले भी अपना विरोध जताते हुए जयपुर में लगे इस फिल्‍म के सेट पर तोड़फोड़ की थी. जनवरी में करणी सेना ने चित्तौड़गढ़ में हो रही शूटिंग के सेट पर पहुंचकर काफी तोड़-फोड़ की थी. इस तोड़फोड़ में निर्देशक भंसाली घायल भी हो गए थे.

फिल्म में दीपिका पादुकोण रानी पद्मावती और रणवीर सिंह अलाउद्दीन खिलजी का किरदार निभा रहे हैं.

advt
Back to top button