करुणानिधि की हालत बिगड़ी, अस्‍पताल के सामने समर्थकों का जमावड़ा

हॉस्पिटल पहुंची कनिमोझी, समर्थकों को दी दिलासा

नई दिल्‍ली। पिछले पांच दशकों से तमिलनाडु की राजनीति में सिरमौर बने रहे डीएमके प्रमुख एम करुणानिधि के स्वास्थ्य में सुधार होने के बदले तेजी से गिरावट आई है।

अस्‍पताल प्रशासन द्वारा जारी हेल्‍थ बुलेटिन में बताया गया है कि उनके स्‍वास्‍थ्‍य में काफी गिरावट दर्ज की गई है और आगामी 24 घंटे उनके लिए काफी अहम हैं।

हेल्‍थ बुलेटिन आने के बाद द्रमुक कार्यकर्ताओं और उनके शुभचिंतकों का अस्पताल के सामने जमावड़ा लग गया है।

वहीं मंगलवार को कनिमोझी अपने पिता करुणानिधि का हाल जानने हॉस्पिटल पहुंची। इस दौरान उन्होंने हॉस्पिटल के बाहर खड़े समर्थकों से भी बातचीत की।

कनिमोझी ने समर्थकों से शांति बरतने और करुणानिधि के बेहतर स्वास्थ्य के लिए दुआ करने की अपील की। बता दें कि एम करुणानिधि दस दिनों से चेन्नई के कावेरी अस्पताल में भर्ती हैं।

अंगों ने काम करना किया बंद

उनके हेल्‍थ के बारे में डॉक्टरों का कहना है कि अगले 24 घंटों में उन पर हो रहे इलाज के असर के बाद उनकी तबीयत के बारे में कोई जानकारी दी जा सकेगी। फिलहाल उनकी स्थिति में लगातार गिरावट जारी है।

उम्र संबंधी बीमारी की वजह से उनके महत्वपूर्ण अंगों ने काम करना बंद कर दिया है और उनके शरीर के इन अंगों को काम करने के लायक बनाए रखना चिकित्‍सकों के लिए चुनौती बना हुआ है।

अब उनका इलाज एक्टिव मेडिकल सपोर्ट के जरिए किया जा रहा है। वरिष्‍ठ डाक्‍टरों की टीम द्वारा उन पर लगातार निगरानी रखी जा रही है।

समर्थकों का लगा तांता

दूसरी तरफ करुणानिधि की हालत नाजुक होने की खबर के बाद सैकड़ों द्रमुक कार्यकर्ताओं ने अलवरपेट में कावेरी अस्पताल पहुंच गए हैं। कावेरी अस्‍पताल क्षेत्र में कई जगहों पर ट्रैफिक जाम लगा हुआ है।

डीएमके महासचिव के अनबालागन, करुणानिधि की पत्‍नी दयालु और उनके परिजन और अन्य नेता उनके स्वास्थ्य खराब होने की खबर के बाद अस्पताल पहुंच गए हैं। अस्पताल के आसपास हालात को काबू में रखने के लिए पुलिस तैनात की गई है।

पांच बार बने तमिलनाडु के मुख्‍यमंत्री

आपको बता दें कि करुणानिध पांच दशक की राजनीति में पांच बार तमिलनाडु के मुख्यमंत्री रह चुके हैं। 94 वर्षीय करुणानिधि को हाई ब्लड प्रेशर के बाद 28 जुलाई को कावेरी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। अब उनकी हालात में सुधार की उम्‍मीद कम है।

1
Back to top button