राष्ट्रीय

अयोध्या विवाद के बाद अब सुलझ सकता है काशी और मथुरा विवाद, याचिका दायर

प्लेसेज ऑफ वर्शिप एक्ट को दी गई चुनौती

नई दिल्ली: हिंदी पुजारियों के संगठन विश्व भद्र पुजारी पुरोहित महासंघ ने प्लेसेज ऑफ वर्शिप एक्ट 1991 को काशी और मथुरा विवाद पर याचिका दाखिल कर सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी है| याचिका में कई ऐतिहासिक तथ्यों का हवाला देते हुए काशी व मथुरा विवाद को लेकर कानूनी कार्रवाई को फिर से शुरू करने की मांग की गई है|

प्लेसेज ऑफ वर्शिप एक्ट में कहा गया है कि 15 अगस्त, 1947 को जो धार्मिक स्थल जिस संप्रदाय का था वो आज, और भविष्य में, भी उसी का रहेगा| हालांकि अयोध्या विवाद को इससे बाहर रखा गया था|

दरअसल उस पर कानूनी विवाद स्वतंत्रता से पहले का चल रहा था| याचिका में कहा गया है कि इस एक्ट को कभी चुनौती नहीं दी गई और ना ही किसी कोर्ट ने न्यायिक तरीके से विचार किया गया|

Tags
Back to top button