छत्तीसगढ़

कटघोरा :”32 वाँ सड़क सुरक्षा माह” का हुआ शुभारंभ,पुलिस ने सुरक्षित यातायात के लिए शुरू की मुहिम

नगर अध्यक्ष उतरे सड़क पर,लोगो को पाम्पलेट बाट दी समझाईश।

अरविन्द शर्मा  

कटघोरा : छत्तीसगढ़ प्रदेश में इन दिनों पुलिस “32 वा सड़क सुरक्षा माह” का शुभारंभ कर रही है.बीते वर्ष तक यह कार्यक्रम साप्ताहिक रूप में आयोजित होता था लेकिन अब वर्तमान में इसका दायरा बढ़कर इसे मासिक कर दिया गया है. 18 जनवरी से शुरू हुए इस सड़क सुरक्षा सप्ताह का शुभारंभ जिला मुख्यालय कोरबा में कल किया गया था जिसमें जिला पुलिस अधीक्षक अभिषेक मीणा के निर्देशन पर एएसपी व वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों ने शिरकत की थी.

कटघोरा :"32 वाँ सड़क सुरक्षा माह" का हुआ शुभारंभ,पुलिस ने सुरक्षित यातायात के लिए शुरू की मुहिम

सड़क सुरक्षा व जनजागरूकता के मद्देनजर इससे जुड़े कार्यक्रम जिले के सभी थाना क्षेत्रों में आयोजित किये जायेंगे. इसके तहत पुलिस के अधिकारी, जवान व जनप्रतिनिधि सभी आम छोटे-बड़े वाहन चालकों को हेलमेट का उपयोग करने, धीमी व सुरक्षित गति से वाहन चलाने, नशे की हालत में गाड़ी नही चलाने के साथ सड़क नियमो के पालन करने की नसीहत देंगे. इस 32 वें सड़क सुरक्षा माह के तहत आज जिले के कटघोरा में भी जनजागरण का कार्यक्रम आयोजित किया गया. आयोजन में नगर अध्यक्ष रतन मित्तल व सूबेदार भुवनेश्वर प्रसाद कश्यप के अलावा पत्रकार व अन्य जनप्रतिनिधियों ने प्रमुख रूप से शिरकत की.

जनजागरण कार्यक्रम मे

कटघोरा के मुख्य चौक में हुए इस जनजागरण कार्यक्रम मे आमलोगों को संबोधित करते हुए नगर अध्यक्ष रतन मित्तल ने बताया कि आज सड़क में खुद की सुरक्षा का खयाल रखते हुए सफर करना एक बड़ी चुनौती बन गई है. व्यस्त यातायात के बीच हरदिन सड़क दुर्घटनाये सामने आ रही है जिसमे वाहन चालक घायल भी हो रहे और अपनी जान भी गंवा रहे.कटघोरा :"32 वाँ सड़क सुरक्षा माह" का हुआ शुभारंभ,पुलिस ने सुरक्षित यातायात के लिए शुरू की मुहिम

मित्तल ने सड़क कानूनों में हुए बदलाव को रेखांकित करते हुए बताया कि पहले घायलों की मदद करने या औंधे अस्पताल पहुंचने के लिए मददगार सामने नही आते थे. उन्हें इससे कानूनी अड़चनों में फंसने के डर होता था लेकिन कानून में हुए बदलाव के बाद अब पुलिस मदद करने वालो को बयान के बाध्य नही कर सकती लिहाजा हम सभी को जब कभी भी जरूरत पड़े घायलों की सहायता के लिए सामने आने की जरूरत है.

सूबेदार भुवनेश्वर प्रसाद कश्यप ने बताया

मीडिया से बातचीत करते हुए सूबेदार भुवनेश्वर प्रसाद कश्यप ने बताया कि जिला एसपी अभिषेक मीणा के निर्देशन व एएसपी कीर्तन राठौर के मार्गदर्शन में जिले की पुलिस सड़क दुर्घटनाओं में कमी लाने के लिए प्रयासरत है. सड़क सुरक्षा माह से अलग पुलिस हाइवे में सतत पेट्रोलिंग करती है. इसके अलावा बैनर, फ्लैक्स व नुक्कड़ नाटक के माध्यम से भी आम वहन चालको को सड़क नियमो के अनुपालन की समझाइस दी जाती रही है.कटघोरा :"32 वाँ सड़क सुरक्षा माह" का हुआ शुभारंभ,पुलिस ने सुरक्षित यातायात के लिए शुरू की मुहिम

पुलिस ने खतरनाक अथवा डेंजर प्वाइंट को चिन्हित कर वहां संकेतक लगवाए है. चौक-चौराहों के लिए पुलिस ने स्टॉपर के इंतजाम भी किये है. इसका नतीजा यह रहा कि जिले के भीतर रोड एक्सीडेंट के मामलों में भारी कमी आई है. कश्यप ने आमजनों से पुलिस के सहयोग की अपील की और शराब पीकर वाहन नही चलाने और रोड रूल्स का पालन करने की बात कही.

कार्यक्रम के दौरान पुलिस के साथ यमराज व चित्रगुप्त भी साथ थे जो बाइक चालको को खासतौर पर हिदायत दे रहे थे. उन्होंने लोगो के बीच सड़क नियमावली का पैम्पलेट भी वितरित किया.

कार्यक्रम में नगर पालिका अध्यक्ष रतन मित्तल, उपाध्यक्ष बजरंग पटेल, रक्षित केंद्र के सूबेदार भुवनेश्वर प्रसाद कश्यप, कांग्रेस के जिला उपाध्यक्ष डॉ शेख इश्तियाक, भाजपा के मंडल प्रमुख धन्नू प्रसाद दुबे, ब्लॉक कांग्रेस के अध्यक्ष राजीव लखनपाल, संजय शर्मा, राजेन्द्र टण्डन, अभिषेक गर्ग,राज जायसवाल, फरीद खान, पत्रकारों में अजय धनोंदिया, अशोक दुबे, चंदन बघेल, शारदा प्रसाद पाल, सत्या साहु, अरविंद शर्मा, चंद्रकांत डिक्सेना मौजूद व टैक्सी चालक संघ के सदस्य मौजूद थे. वही कटघोरा थाने की ओर से उपनिरीक्षक अशोक शर्मा, प्र.आर. संदीप पांडेय, आर. चंद्रशेखर पांडेय, दीपक कश्यप, शिव कुमार परिहार,सतीश कुमार साहू, म.आर. तबस्सुम व अन्य हमराह उपस्थित रहे.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button