छत्तीसगढ़

कटघोरा: मुख्य चौक में ट्रैफिक सिग्नल तो छुरी में पुलिस सहायता केंद्र की मांग.. प्रभारी SDOP रामगोपाल करियारे ने क्षेत्रीय पत्रकारों से की सौजन्य भेंट..

कानून-व्यवस्था पर किया राय मशविरा.

अरविन्द शर्मा 

कोरबा/कटघोरा (clipper 28): जिले के सबसे बड़े पुलिस सबडिवीजन कटघोरा में आज प्रभारी एसडीओपी रामगोपाल करियारे ने पुलिस अनुविभागीय कार्यालय में क्षेत्रीय पत्रकारों से सौजन्य भेंट की, उनका हालचाल जाना और इलाके में शांति-व्यवस्था कायम रहे इस हेतु सुझाव मांगे. श्री करियारे ने थाना क्षेत्र में व्याप्त कानून संबंधी समस्याओं पर पत्रकारों से विस्तार से चर्चा की. बता दे कि कटघोरा के पूर्व एसडीओपी पंकज पटेल का रायपुर तबादला होने के बाद एसपी अभिषेक मीणा ने वैकल्पिक व्यवस्था के तहत जिला पुलिस मुख्यालय के पुलिस उप अधीक्षक रामगोपाल करियारे को कटघोरा अनुविभाग का प्रभार सौंपा है.कटघोरा: मुख्य चौक में ट्रैफिक सिग्नल तो छुरी में पुलिस सहायता केंद्र की मांग

पत्रकारों ने बताया कि जिला एसपी अभिषेक मीणा के निर्देशन व एएसपी कीर्तन राठौर के मार्गदर्शन में कटघोरा क्षेत्र में कानून-व्यवस्था की स्थिति अन्य थाना क्षेत्रों से बेहतर है. कारोबारी व औद्योगिक क्षेत्र होने के बावजूद यहां छुटपुट घटनाएं ही सामने आती है. यद्यपि सड़को की बदहाली की वजह से सड़क दुर्घटनाओ में हुआ इजाफा ही फिलहाल पुलिस के सामने एक बड़ी चुनौती है. पत्रकारों ने बताया कि कटघोरा के कुछेक वार्ड व आसपास के गाँवो में बड़े पैमाने पर अवैध कच्ची शराब का निर्माण व बिक्री हो रहा है जिससे ग्रामीण क्षेत्रो में शांति भंग हो रही है. इसके अलावा भारी वाहन चालक सड़क नियमो की अनदेखी कर रहे है. नो एंट्री होने के बाद भी शहर के भीतर से भारी वाहनों की आवाजाही हो रही है जो कि सड़क दुर्घटनाओं की प्रमुख वजह है. इस पर लगाम लगाने की आवश्यकता है.

चौक-चौराहों में ट्रैफिक सिग्नल. PWD को लिखा पत्र.

चर्चा के दौरान पत्रकारों ने बताया कि शहर के भीतर निरन्तर ट्रैफिक का दबाव बढ़ता जा रहा है. वही ट्रैफिक सिग्नल नही होने से आम वाहन चालक भी चौक चौराहों में सड़क नियमो का पालन नही कर रहे है जिस वजह से हादसों की आशंका बनी रहती है. इस समस्या पर त्वरित संज्ञान लेते हुए प्रभारी एसडीओपी श्री करियारे ने कार्यालय की ओर से लोक निर्माण विभाग को फौरन बायपास व मुख्य चौक में ट्रैफिक सिग्नल स्थापित किये जाने पत्र प्रेषित कराया. इसके अतिरिक्त बन्द बड़े सीसीटीवी को पुनः चालू करने के निर्देश कर्मियों को दिए है.

छुरी व सुतर्रा में पुलिस हेल्प डेस्क की अनुशंसा.

बीट पुलिसिंग को और मजबूत करने हेतु डीएसपी रामगोपाल करियारे ने छुरी व सुतर्रा में अस्थाई पुलिस हेल्प डेस्क स्थापित किये जाने हेतु जिला मुख्यालय को पत्र लिखा है. उन्होंने बताया कि इस तरह के हेल्प डेस्क से ग्रामीण जनों के बीच सोशल पुलिसिंग को बढ़ावा मिलेगा जिससे पुलिस और लोगो के बीच की दूरी भी खत्म होगी साथ ही ग्रामीण क्षेत्रो में पनप रहे आपराधिक गतिविधि व अपराधियों पर भी अंकुश लगेगा. श्री करियारे में इस दिशा में ठोस कदम उठाने हेतु डिवीजन के सभी थाना प्रभारियों को निर्देशित किया है. कम्युनिटी पुलिसिंग को मजबूत करने के लिए डीएसपी ने जल्द ही विभिन्न संगठनों, संस्थाओं व समाज के प्रमुखों के साथ सामूहिक बैठक की बात कही है.

नवपदस्थ प्रभारी एसडीओपी रामगोपाल करियारे से सौजन्य भेंट करने वाले पत्रकारों में पत्रकार संघ की ओर से अजय धनोंदिया, नवीन गोयल, प्रेस क्लब से सन्दीप चौबे, श्रमजीवी पत्रकार संगठन के जिलाध्यक्ष राहुल डिक्सेना, शशिकांत डिक्सेना व शारदा प्रसाद पाल मौजूद रहे.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button