छत्तीसगढ़

कटघोरा : हॉटस्पॉट जोन कटघोरा में वैक्सिनेशन टिके की हुई शुरुआत,पहला टिका BMO ने स्वयं लगवाया

BMO ने कहा ‘आज का दिन खुशियों से भरा’

अरविन्द शर्मा 

कटघोरा 16 जनवरी (clipper 28) : पूरे विश्व ने कोरोना महामारी ( covid -19) के भीषण प्रकोप को झेला है।देश विदेश के वैज्ञानिकों ने भी इस महामारी के वैक्सीन को तैयार करने के लिए चौबीसों घण्टे अथक प्रयास किया है।आज इन्ही की बदौलत देश को स्वदेशी दवा भी उपलब्ध हो सकी है।इसी कड़ी में आज छत्तीसगढ़ प्रदेश का पहला हॉटस्पॉट कटघोरा में भी वैक्सिनेशन का कार्य शुरू किया गया है।जिसकी प्राथमिक औपचारिकतायें पूरी कर ली गई हैं।

विश्व का सबसे बड़ा वैक्सीन प्रोग्राम

देश के प्रधानमंत्री मोदी के अभिभाषण के खत्म होने के ठीक बाद देश के लगभग सभी हिस्सों में विश्व का सबसे बड़ा वैक्सीन प्रोग्राम की विधिवत शुरुआत की गई है जिसके तहत कोरबा जिले के कटघोरा स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भी कोरोना वॉरियर्स के तौर पर काम करने वाले हेल्थ वर्कर्स को कोरोना की कोविडशील्ड वैक्सीन लगाया गया. खण्ड स्वास्थ्य अधिकारी डॉ रुद्रपाल सिंह कंवर ने आज सुबह नायब तहसीलदार महोदय रविशंकर राठौर, नगर अध्यक्ष रतन मित्तल व मुख्य नगर पालिका अधिकारी जेबी सिंह की मौजूदगी व में पहला टिका स्वयं लगवाया.Katghora: Vaccination tick started in hotspot zone Katghora, BMO self-erected first hinges

डॉ रुद्रपाल ने मीडियाकर्मियों से बात करते हुए बताया कि देश के वैज्ञानिक, चिकित्सको और केंद्र व राज्य सरकार के अथक प्रयासो से आज वह दिन आ ही गया जिसका इंतज़ार हम सभी को बेसब्री से था. कटघोरा क्षेत्र में रहते हुए उन्होंने कोरोना का सबसे भयंकर रूप देखा है. इस दौरान कोरबा जिले के अलावा राज्य के अन्य जिलों में सैकड़ों मौतें कोरोना की वजह से हुई. कटघोरा शहर व जिलेवासियों को इस दवा का इंतजार था जो आज यह इंतजार भी खत्म हो गया है.

उन्होंने बताया कि पहले चरण में करीब 50 हेल्थ वर्कर्स को टीका लगाया जा रहा है. टीकाकरण के बाद टीकाकृत व्यक्ति को वैक्सीन सेंटर में ही कड़े ऑब्जर्वेशन में रखा जा रहा है ताकि टीके के आंशिक असर को देखा जा सके. हालांकि ऐसे लोगो से उनका पूरे दिन सम्पर्क रहेगा और उनमें आने वाले किसी भी तरह के बदलाव की जानकारी ली जाएगी.

पुलिस प्रशासन व मीडिया

सिंह ने आगे यह भी बताया कि जिस तरह लोगो के बीच वैक्सीन को लेकर कुछ भ्रामक अफवाहे बनी हुई है तो ऐसी अफवाहों से डरने की आवश्यकता नही है वैक्सीन सभी के लिए कारगर व उपयोगी है शासन प्रशासन,स्वास्थ्य कर्मी,पुलिस प्रशासन व मीडिया को भी आमजन के बीच भ्रामियो को दूर करना होगा तथा सभी को सपोर्ट करने की आवश्यकता है।आगे चलकर इसके परिणाम अच्छे ही देखने को मिलेंगे।Katghora: Vaccination tick started in hotspot zone Katghora, BMO self-erected first hinges

टीकाकरण के मद्देनजर आज सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में सुरक्षा व सुविधा के लिहाज से व्यापक तैयारी की गई थी. पुलिस बल भी तैनात किये गए थे। साथ ही डॉक्टर और नर्सों को भी कार्यक्रम के तहत अस्पताल में मौजूद रहने को कहा गया था. चिकित्साधिकारी डॉ रुद्रपाल ने टीका निर्माण में लगे वैज्ञानिक, डॉक्टर्स और दवा निर्माण कंपनियों का आभार व्यक्त किया है. उन्होंने उम्मीद जताया है कि वैक्सिनेशन के बाद भारत के साथ पूरी दुनिया को इस संकट से स्थाई निजात मिल सकेगी.कटघोरा : हॉटस्पॉट जोन कटघोरा में वैक्सिनेशन टिके की हुई शुरुआत,पहला टिका BMO ने स्वयं लगवाया

विशेष ट्रेनिंग

कार्यक्रम में उपस्थित नायब तहसीलदार ने बताया कि प्रोटोकॉल के तहत कार्यक्रम की तैयारी पूरी कर ली गई है।सर्वप्रथम टोकन जारी किया जा रहा फिर वेटिंग रूम में इन्हें रखा जाता है ततपश्चात टीकाकरण केंद्र में टीका लगाया जा रहा है।टिके पश्चात मरीजो के लिए अलग से वेटिंग हाल बनाया गया है जहाँ लगभग आधे घण्टे तक इन्हें रखा जाता है तत्पश्चातइस छुट्टी दे दी जाती है।इस पूरे कार्यक्रम में डॉक्टरों की टीम चिन्हाकित की गई है और उन्हें विधिवत विशेष ट्रेनिंग दी गई है साथ ही इसमे जिला प्रशासन व पुलिस प्रशासन की टीम भी लगी हुई है।राठौर जी ने आगे बताया कि नगरवासियों के लिए भी हर्ष का विषय है कि नगर में भी कोरोना की वैक्सीन उपलब्ध हो गई है और समयानुसार सभी को इसका लाभ मिल सकेगा।

नगर अध्यक्ष आज इस कार्यक्रम की शुरुआत के लिए चिकित्सालय पहुंचे हुए थे.मित्तल ने मीडिया के माध्यम से टीकाकरण की शुरुआत करने पर सभी को बधाई दी और उनका आभार व्यक्त किया. मित्तल ने सभी को आगाह करते हुए कहा कि कोई भी वैक्सिनेशन से जुड़े अफवाहों पर बिल्कुल भी ध्यान ना दे. टीका पूरी तरह सुरक्षित और फायदेमंद है. फिलहाल उनका प्रयास है कि चरणबद्ध तरीके से प्रत्येक शहरवासियों को यह टीका उपलब्ध हो. उन्होंने कहा कि कोरोना से लड़ने वाले कटघोरा के लिए आज का दिन काफी बड़ा है.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button