कटघोरा: नपा अध्यक्ष रतन मित्तल सहित वार्ड पार्षद पहुँचे क्रमिक धरना स्थल, ऐतिहासिक तहसील को जिले का दर्जा दिलाने दिया भरपूर समर्थन

कटघोरा. पुरानी कहावत है-“रसरी आवत जात ते, सिल पर परत निसान” कहने का तात्पर्य यह है कुँए पर रस्सी का प्रयोग करते वक्त बार बार घिसने से पत्थरों पर भी निशान पड़ जाते हैं,ठीक उसी प्रकार लगातार कटघोरा को जिला बनाने की उठ रही मांग को देखते हुए प्रतीत हो रहा है अब कटघोरा जिला बनने से दूर नही.इसी कड़ी में आज कटघोरा नगर पालिका परिषद अध्यक्ष रतन मित्तल सहित पूरे वार्ड पार्षद अधिवक्ता संघ द्वारा जारी धरना में पूर्ण समर्थन दे कर बुलंद स्वर में कहा है हर हाल में 26 जनवरी तक कटघोरा जिला घोषित होना चाहिए।

जैसा कि ज्ञात है कटघोरा व्यवहार न्यायालय के समीप जारी अधिवक्ता संघ का “कटघोरा जिला बनाओ” धरना का आज 31वा दिन है,और लगातार कटघोरा को जिला बनाने की मांग तेज हो रही है।धरना कार्यक्रम में अलग अलग समुदाय व अलग अलग संगठनों द्वारा भरपूर समर्थन दिया जा रहा है।इसी तारतम्य में आज कटघोरा नगर पालिका परिषद अध्यक्ष रतन मित्तल,नपाप उपाध्यक्ष बजरंग पटेल,कटघोरा विधायक प्रतिनिधि राज जायसवाल सहित सभी वार्ड पार्षद क्रमिक धरना स्थल पहुचे तथा भरपूर सर्मथन के साथ कटघोरा को जिला बनाने की मांग किये।ततपश्चात कटघोरा एसडीएम नंदजी पांडेय को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा गया।

नपा अध्यक्ष रतन मित्तल ने बताया कि कटघोरा ऐतिहासिक तहसील है पर आज भी यहाँ की जनता को छोटे से बड़े कार्य के लिए जिला कोरबा का रुख करना पड़ता है।कटघोरा का भगोलिक विस्तार इतना अधिक है कि जिला मुख्यालय से यह दूरी सौ किलोमीटर से भी अधिक है।ऐसे में जनता की समस्याओं को सहज ही समझा जा सकता है।लिहाजा क्षेत्रीय सांसद श्रीमती ज्योत्सना महंत,कटघोरा विधायक पुरुषोत्तम कंवर व पाली तानाखार विधायक मोहितराम केरकेट्टा को विशेष पहल करने की नितान्त आवश्यकता है ताकि कटघोरा जल्द जिला बन सके तथा दूरस्थ वनांचल क्षेत्र के ग्रामीणों को समस्याओं से जल्द निजात मिल सके।

धरना कार्यक्रम में शिरकत कर रहे वार्ड 9 तिलक नगर के पार्षद संजय अग्रवाल ने कहा कि कटघोरा को जिला बनाना हमारी मांग नही बल्कि अधिकार है जिसे हम लेकर रहेंगे।निश्चित रूप से हमारे पूर्व से प्रयास ही नही रहे जिसका यह नतीजा है कि आज तक हम अपने अधिकार से वंचित हैं।उन्होंने आगे बताया कि कटघोरावासियो ने काफी वर्षों से कटघोरा को जिला बनाने का ईमानदारी से प्रयास किया है।जिस तरह से सर्वदलीय बैठकें पूर्व में हुई है।पार्षद से लेकर सांसद,विधायक और मंत्रियों के डेलिगेशन ने पहल की,जिससे अब तक कटघोरा को जिला बन जाना था लेकिन पूर्व मुख्यमंत्री की वादाखिलाफी को भुलाया नही जा सकता,मौजूदा छत्तीसगढ़ की भूपेश सरकार से उम्मीदे है कि कटघोरा को जिले का दर्जा 26 जनवरी को हासिल हो सकता है।

धरना स्थल में नगर पालिका परिषद अध्यक्ष रतन मित्तल,नपाप उपाध्यक्ष बजरंग पटेल,पार्षद संजय अग्रवाल,शरद गोयल,श्रीमति अर्चना अग्रवाल,श्रीमति ममता अग्रवाल,रविन्द्र मोहन बघेल,मुरली साहू,केशव अग्रवाल,संदीप अग्रवाल, राज जायसवाल,जयनारायण कंवर,आत्माराम पटेल,कमलेश पटेल एवम कांग्रेस के पदाधिकारी सहित बड़ी संख्या में अधिवक्तागण उपस्थित रहे।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button