छत्तीसगढ़

गुरु तेग बहादुर सिंह के प्रकाश पर्व पर कथा कीर्तन

सिख धर्म के नौवें गुरु तेग बहादुर सिंह का 400 वां प्रकाश पर्व गुरु सिंह सभा सेंट्रल गुरुद्वारा गोंड़पारा में मनाया गया

बिलासपुर : सिख धर्म के नौवें गुरु तेग बहादुर सिंह का 400 वां प्रकाश पर्व गुरु सिंह सभा सेंट्रल गुरुद्वारा गोंड़पारा में मनाया गया। इस मौके पर दो दिवसीय विशेष कीर्तन समागम का आयोजन किया गया। इस दौरान पटना साहिब, पटियाला वाले व हजूरी रागी जत्थों ने कथा व कीर्तन पेश कर संगत को निहाल किया।

खालसा सुखमनी समिति (लेडिस विंग) की ओर से आयोजित इस कार्यक्रम की शुरुआत सोमवार से ही कर दी गई थी। पहले दिन रात आठ बजे से किया गया। वहीं दूसरे दिन यानी मंगलवार को सुबह आठ बजे से ज्ञानी सरबजीत सिंह पटना साहेब वाले, ज्ञानी जसकरन सिंह पटियाला वाले और पंथ प्रचारक हर इकबाल सिंह बाली व ज्ञानी राजवीर सिंह हजुरी रागी जत्थे वाले की ओर से कथा और कीर्तन पेश किया गया। यह कार्यक्रम सुबह 11.30 बजे तक चला। इस दौरान कीर्तन में ज्ञानी सरबजीत सिंह पटना साहेब वाले, ज्ञानी जसकरन सिंह पटियाला वाले व पंथ के महान प्रचारक हर इकबाल सिंह बाली अैर ज्ञानी राजवीर सिंह हजुरी रागी जत्थे वाले कथा व कीर्तन कर संगत को निहाल किया।

कार्यक्रम को सफल बनाने में खालसा सुखमनी समिति के सभी सदस्य डा. गुरमीत कौर, सोनी उबेजा, हरलीन सलूजा, मीनू कौर उबेजा, रिंकी उबेजा, रिकल सलूजा, चिंकी उबेजा, निमिशा लोगनी, श्रुति घई, रचना सलूजा, नेहा सलूजा, नीतू सलूजा, प्रीति सलूजा, सोनल सलूजा, नीलू कस्तुरिया, मोनिका लांबा, प्रीत राज पाल, रमनजीत लूथरा, सुप्रीत उबेजा, रिया सलूजा, ऋ षि सलूजा, हरवीन सवन्न्ी, इमरीत कौर, पिंकी राजपाल विशेष रूप से भूमिका रही। वहीं स्त्री सतसंग और खालसा समिति के साथ ही प्रबंधक कमेटी के सभी सदस्यों का भी सहयोग रहा।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button