KBC 10: हाथ पर रिक्शा खींच और बिना पढ़े लिखे टैक्सी चालक ने जीत लिए 25 लाख

केबीसी में गाजी 25 लाख रुपए की धनराशि अपने नाम करने में कामयाब रहे।

KBC 10: अमिताभ बच्चन का शो कौन बनेगा करोड़पति दर्शकों के बीच अपना रंग जमाए हुए है। दर्शकों को बिग की मेजबानी और कंटेस्टेंट की होशियारी खूब पसंद आ रही है। आने वाले एक एपिसोड में हॉट सीट पर नजर आएंगे 70 साल के गाजी जलालुद्दीन। गाजी बीते 38 सालों से कोलकाता की सड़कों पर टैक्सी चला रहे हैं।

केबीसी में गाजी 25 लाख रुपए की धनराशि अपने नाम करने में कामयाब रहे। इस एपिसोड का प्रसारण दो नवंबर को किया जाएगा। हाथ रिक्शा खींचकर और फुटपाथ पर अपना बचपन बिताने वाले एक बिना पढ़े लिखे टैक्सी चालक के लिए दो निशुल्क स्कूल और एक अनाथालय खोलना आसान बात नहीं है।

यही खास वजह है कि गाजी को केबीसी शो के लिए आमंत्रित किया गया था। इस एपिसोड में गाजी जलालुदिदीन की मदद के लिए सिने सुपरस्टार आमिर खान मौजूद थे। आमिर खान ने भी 70 वर्षीय गाजी को 25 लाख जीतने में खूब मदद पहुंचाई।

मीडिया से बातचीत में गाजी ने बताया कि वह जीती हुई रकम से जरुरतमंद बच्चों के लिए स्कूल (निशुल्क) खोलना चाहते हैं। गाजी टैक्सी के अलावा पश्चिम बंगाल के सुंदरवन इलाके में भी दो निशुल्क स्कूल चलाते हैं। इसके अलावा वह अनाथालय भी चलाते हैं। गाजी महज सात वर्ष की उम्र में ही परिवार की जीविका चलाने के लिए कोलकाता आ गए थे। उनका बचपन फुटपाथ पर ही बीता था।

गाजी बताते हैं कि 14 साल की उम्र में हाथ रिक्शा खींचा और जब वह बड़े हुए टैक्सी चलाने लगे। टैक्सी चलाने के दौरान ही उन्होंने 500 से ज्यादा युवाओं को निशुल्क टैक्सी चलाना भी सिखाया। नौजवानों को टैक्सी चलाने का प्रशिक्षण देने के लिए उन्होंने सुंदरवन ड्राइविंग समिति की शुरुआत की थी।

साल 1998 में उन्होंने सुंदरवन में पहला स्कूल खोला था। गाजी ने कहा कि इस तरह कई सालों के बाद वह दूसरा स्कूल खोलने में भी कामयाब रहे। साल 2015 में सुंदरवन आर्फनेज मिशन की शुरुआत की। गाजी का कहना है कि अनपढ़ होने के बाद भी वह इस बात को समझते हैं कि शिक्षा से ही बेरोजगारी दूर की जा सकती है।

 <>

Back to top button