होली की मस्ती ऐसे रखें बच्चों का ख्याल

होली यानि रंगो के त्योहार में कोई भी रंगों से दूर नहीं रह सकता। वैसे तो होली खेलने के लिए हर कोई ही उत्सुक होता है लेकिन होली में सबसे ज्यादा बच्चे एक्साइटेड नजर आते है।

होली की मस्ती ऐसे रखें बच्चों का ख्याल

होली यानि रंगो के त्योहार में कोई भी रंगों से दूर नहीं रह सकता। वैसे तो होली खेलने के लिए हर कोई ही उत्सुक होता है लेकिन होली में सबसे ज्यादा बच्चे एक्साइटेड नजर आते है। होली में नई पिचकारियों और रंगो के साथ बच्चे जमकर मस्ती करते है लेकिन बाजार से मिलने वाले केमिकल युक्त रंग बच्चों को नुकसान भी पहुंचा सकते है।

इसके अलावा इस दिन बच्चे अपने खान-पान पर भी ध्यान नहीं देते है, जिसके बाद में उन्हें प्रॉब्लम का सामना करना पड़ता है। ऐसे में होली की मस्ती के साथ-साथ बच्चों का ख्याल रखना भी बहुत जरूरी है।

आज हम आपको कुछ ऐसे टिप्स देंगे जिससे बच्चे होली के दिन मस्ती भी कर सकते है और उन्हें कोई नुकसान भी नहीं होगा। तो आइए जानते है होली की मस्ती के साथ-साथ बच्चों को सुरक्षित और स्वास्थ रखने का तरीका।

इस तरह रखें होली में बच्चों का ख्याल

1. केमिकल युक्त रंग

बच्चों को होली के रंग देने से पहले जांच ले कि वो केमिकल युक्त न हो। बच्चों को रंगो की एलर्जी से बचाने के लिए हर्बल रंग ही खरीदें। आप चाहें तो रसायनयुक्त रंगों की बजाए घर में ही बच्चों को ईको फ्रेंडली रंग बनाकर दो सकते है।

2. सरसों का तेल

होली खेलने से पहले ही बच्चों के सिर पर सरसों का तेल और शरीर पर माश्चराइजर क्रीम अच्छी तरह लगा दें। इससे बाद में रंगों को साफ करने में मुश्किल नहीं होती।

3. उनके पास रहें मौजूद

जब बच्चा होली खेल रहा हो तो आप उनके आस-पास ही रहें। होली खेलते समय ध्यान रखें कि रंग उनकी आंखों और मुंह में न चला जाएं। इसके अलावा होली खेलने के लिए बच्चों को कोई ऐसा कपड़ा पहनाएं, जिससे उसका शरीर ढका रहें।

4. गुब्बारें से होली खेलना

छोटे बच्चों को गुब्बारों में रंग भरकर होली खेलने न दें। क्योंकि कई बार गुब्बारा फूटने से बच्चों को चोट भी लग सकती है। इसके अलावा अचानक गुब्बारा फूटने से रंग बच्चे के मुंह और आंखों में भी जा सकता है।

5. गलत चीजों से होली खेलना

कुछ बच्चे मस्ती-मस्ती में होली खेलने के लिए अंडा, मिट्टी, नाले या गंदे पानी का इस्तेमाल करते है। ऐसे में उन्हें ऐसा करने के लिए मना कर दें, ताकि उन्हें किसी भी तरह का इंफेक्शन न हो।

6. खान-पान का भी रखें ध्यान

होली की मस्ती मे अक्सर बच्चे अपने खान-पान का ध्यान नहीं रखते। कई बार तो बच्चे बाजार से ही कुछ गलत चीजें ले कर खा लेते है, जिससे उन्हें बाद में परेशानी का सामना करना पड़ता है। ऐसे में जब बच्चे होली खेलने के लिए जाए तो उन्हें अच्छी तरह खिला कर भेजे और उन्हें बाहर का खाने के लिए मना कर दें।

7. जेल वाले कलर का इस्तेमाल

अगर आप होली खेलने के लिए सिंथेटिक कलर का इस्तेमाल करते हैं तो जेल कलर बच्चों के लिए बेस्ट है। यह स्किन को नुकसान भी नहीं पहुंचाता और साफ करने में भी आसान होता है।

new jindal advt tree advt
Back to top button