यौन जीवन में आने वाली परेशानियों को इस तरह करे दूर बनाएं रखें मधुरता

यौन जीवन

आप किस स्थिति या पोजिशन का चुनाव करते हैं यह भी काफी हद तक आप दोनों के यौन जीवन को प्रभावित कर सकता है.

यौन जीवन में आने वाली परेशानियों को कुछ यूं करें दूर… बिस्तर पर साथी के साथ बिताए गए पलों में कई बार अपनी-अपनी चाहतें और जरूरतें कुछ कमियां छोड़ देती हैं. कई बार दोनों की अलग-अलग चाहतें अगर ही तरीके से हेंडल न की जाएं तो रिश्तों पर भी इनका असर होने लगता है. इसी के चलते कई बार वैवाहिक जीवन में दूरिया बढ़ सकती हैं. यौन जीवन में ऐसे बनाएं रखें मधुरता-

क्या हो सकती हैं इसकी वजहें

संबंध बनाने की आवृति या फ्रिक्वेंसी- संबंध बनाने की इच्छा हर किसी की अलग-अलग हो सकती है. कुछ लोग इसके लिए कुछ ही पलों में तैयार हो सकते हैं, तो कुछ को टाइम लगता है. हो सकता है कि कब-कब संबंध बनाने हैं इस बात पर आप दोनों की सोच या इच्छा मेल न खाए. नए जोड़ों में यह इच्छा काफी ज्यादा हो सकती है. इसलिए एक दूसरे को संतुष्ट करने के लिए उन दिनों को याद करें और दोहराने का प्रयास करें.

इच्छा: शारीरिक संबंधों को लेकर आवृति अलग होने के साथ ही इच्छा भी अलग हो सकती है. कुछ लोगों में काफी ज्यादा यौन इच्छा होती है. ऐसे साथी अक्सर इच्छा पूरी न होने पर वे बुरा या अकेला महसूस कर सकते हैं. वहीं जिस साथी की इच्छा कम है वह संबंध बनाने का दबाव महसूस कर सकता है.

Homosexuality या समलैंगिकता से जुड़े ऐसे मिथ जिन्हें आप मानते होंगे सच…
समलैंगिकता एक तरह की बीमारी या यौन विकृति नहीं है. समलैंगिकता भी तीन अहम सेक्शुअल ओरिएंटेशन में से एक है.

स्थिति: आप किस स्थिति या पोजिशन का चुनाव करते हैं यह भी काफी हद तक आप दोनों के यौन जीवन को प्रभावित कर सकता है. कई बार गलत पोजिशन का चुनाव में संतुष्टि में बाधा बन सकता है.

क्या करें-

रास्ता तलाशें-

अगर आप दोनों साथियों में आपकी यौन इच्छा ज्यादा है और साथी की कम, तो इसे रिजेक्शन के तौर पर न लें. इसके लिए दूसरे रास्ते तलाशें. उन्हें रिझाने की कोशिश करें. गुस्सा या नाराजगी दिखा कर आप उन्हें उदास कर सकते हैं संबंध बनाने के लिए उत्साहित नहीं. तो कोशिश करें और थोड़ा समय एक दूसरे में खो कर देखें. बात जरूर बनेगी.

बात करे

हो सकता है कि आप दोनों के बीच अपने यौन जीवन को लेकर संवाद न हो. इस बाधा को तोड़ना आप दोनों के हाथ में ही है. अपने साथी से बात करें. कोशिश करें कि आप उससे डिमांड न करें, बल्कि उसकी बातें सुनें और मिलकर कोई हल निकालें.
क्‍या है इरेक्टाइल डिसफंक्शन और इससे निपटने के 5 आसान तरीके?

दबाव न बनाएं

यौन जीवन में आप कितना बेहतर करते हैं या आप दोनों के संबंध इतने मधुर नहीं बन पाते, तो इसका हल निकालें. कभी भी अपने साथी को इसके लिए दबाएं नहीं. उसे ऐसा करने के लिए शारीरिक व मानसिक रूप से दबाव न बनाएं. इससे आप दोनों के रिश्ते मधुरता खो देंगे.<>

Back to top button