केरल की CPM सरकार के पक्ष में उतरे केजरीवाल, बोले- कुछ ताकतें अशांति फैला रहीं

दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के मुखिया अरविंद केजरीवाल भी अब केरल की सीपीएम सरकार के पक्ष में खड़े नजर आ रहे हैं. केरल के पर्यटन विभाग के एक कार्यक्रम में केजरीवाल ने कहा, “कुछ ताकतें केरल में अशांति पैदा करने की कोशिशें कर रही हैं, यह हमें दुखी करता है.”

बता दें कि केरल में हुईं संघ और बीजेपी कार्यकर्ताओं की हत्याओं को इन दिनों ‘राजनीतिक हत्या’ करार देकर बीजेपी केरल सरकार पर लगातार आक्रामक रुख अख्तियार किए हुए है.

बिना किसी पार्टी का नाम लिए केजरीवाल ने आगे कहा, “कुछ ताकतें इस देश को धर्म के नाम पर तोड़ने का प्रयास कर रही हैं. हम पढ़ते हैं कि केरल में आप उन ताकतों से कैसे लड़ रहे हैं, मैं आपको बधाई देता हूं. यह देश गांधी, बुद्ध और महावीर का है.

इस देश के लोग घृणा पसंद नहीं करते, वे शांति और प्रेम चाहते हैं. सदियों पहले भारत ने यह संदेश दुनिया को दिया था.”

इस मामले पर अपना रुख स्पष्ट करते हुए केजरीवाल ने कहा, “हम राम, यीशु, नबी मोहम्मद और गुरू नानक में विश्वास करते हैं और यही हमारे देश की नींव है. कुछ ताकतें इसे नष्ट करने की कोशिश कर रही हैं. हम सभी को उनके खिलाफ लड़ने की जरूरत है. हम इस लड़ाई में आप के साथ हैं.”

आपको बता दें कि अरविंद केजरीवाल ने यह बातें “केरल दिल्ली सांस्कृतिक उत्सव 2017” में कही थीं जो कि शनिवार शाम को दिल्ली में हुआ था.

गौरतलब है कि भारत के सबसे शिक्षित राज्य केरल में भगवा दल अपनी पैठ जमाने की पुरजोर कोशिश में जुटा हुआ है. बीजेपी को उम्मीद है कि वह आगामी चुनाव में केरल की लाल जमीन को भगवा में तब्दील करने में कामयाब होगी.

इसी के मद्देनजर सीपीएम के खिलाफ जनसमर्थन हासिल करने के लिए बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने केरल में 3 अक्टूबर को 14 दिवसीय जनरक्षा यात्रा की शुरुआत की थी.

उत्तर केरल के कन्नूर में RSS और CPM के बीच पिछले चार दशक से संघर्ष चल रहा है. इसे केरल के मुख्यमंत्री पिनारायी विजयन का गढ़ माना जाता है.

बीजेपी का आरोप है कि केरल में सबसे ज्यादा RSS और बीजेपी कार्यकर्ताओं की हत्याएं कन्नूर में हुईं. यहां पर जनरक्षा यात्रा के दौरान यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लव जिहाद को लेकर सूबे की सरकार पर जमकर हमला बोला. साथ ही लव जिहाद के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की.

1
Back to top button