सिग्नेचर ब्रिज का केजरीवाल ने किया उद्घाटन

-AAP कार्यकर्ताओं- मनोज तिवारी के बीच हाथापाई

नई दिल्ली।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने रविवार को सिग्नेचर ब्रिज का उद्घाटन कर दिया। कार्यक्रम शुरू होने से पहले सांसद और बीजेपी दिल्ली के अध्यक्ष मनोज तिवारी व आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं के बीच हाथापाई हुई। इसके बाद मनोज तिवारी ने कहा कि यह मेरी संसदीय सीट में है। कई सालों से बंद रहने के बाद मैंने ब्रिज का निर्माण दोबारा शुरू कराया। अब अरविंद केजरीवाल उद्घाटन कार्यक्रम का आयोजन कर रहे हैं।

मनोज तिवारी ने कहा कि मैं उद्घाटन कार्यक्रम के लिए आमंत्रित था। मैं यहां से सांसद हूं। ऐसे में क्या दिक्कत है? क्या मैं कोई अपराधी हूं? मैं यहां अरविंद केजरीवाल का स्वागत करने के लिए था। पुलिस और आप ने मेरे साथ बुरा बर्ताव किया। वहीं, आम आदमी पार्टी के नेता दिलीप पांडे ने कहा कि बिना निमंत्रण पत्र के हजारों लोग यहां आए हुए हैं लेकिन मनोज तिवारी खुद को वीआईपी समझते हैं।
वह गुंडागर्दी कर रहे हैं। बीजेपी के लोगों ने आप के कई कार्यकर्ताओं और स्थानीय लोगों के साथ मारपीट की है। वे अस्पताल में भर्ती हैं। इस मामले पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर बीजेपी पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि यह एक दिल्ली सरकार का कार्यक्रम है। पुलिस मूक दर्शक बनी रही।

बता दें कि सिग्नेचर ब्रिज का जनता 5 नवंबर से उपयोग कर सकेगी। इसके खुलने पर उत्तर-पूर्वी दिल्ली के लोगों का 45 मिनट का सफर 10 मिनट में पूरा हो सकेगा। अभी मजनू के टीले से भजनपुरा चौक तक का सफर तय करने में लोगों को जाम का सामना करना पड़ता है। उद्घाटन के बाद लेजर शो कार्यक्रम भी रखा गया है। परियोजना पर दिल्ली पर्यटन एवं परिवहन विकास निगम (डीटीटीडीसी) ने काम किया है।

अंतिम रूप देना बाकी : सिग्नेचर ब्रिज का काम लगभग पूरा हो गया है, लेकिन अंतिम रूप देना बाकी है, जो 31 मार्च तक ही पूरा हो पाएगा। ब्रिज को आम जनता के लिए खोल दिया जाएगा, लेकिन पिलर के ऊपर बने 22 मीटर वाले खंड पर लोग 31 मार्च के बाद ही जा पाएंगे। इस 22 मीटर वाले खंड में काम जारी है।

यहां ग्लास हाउस बनाया जाएगा, जिससे पूरी दिल्ली का पैनोरोमिक व्यू देखने को मिलेगा। विभाग के अधिकारी ने बताया कि पिलर के ऊपर जाने के लिए दोनों तरफ चार लिफ्ट लगाई गई हैं, जिससे आठ लोग ऊपर जा सकेंगे। ऊपरी हिस्से में 50 लोगों के खड़े रहने की व्यवस्था होगी।

19 स्टे केबल्स : सिग्नेचर ब्रिज के मुख्य पिलर की ऊंचाई 154 मीटर है। ब्रिज पर 19 स्टे केबल्स हैं, जिन पर ब्रिज का 350 मीटर भाग बगैर किसी पिलर के रोका गया है। पिलर के ऊपरी भाग में चारों तरफ शीशे लगाए गए हैं।

Back to top button