राष्ट्रीय

केरल गोल्ड स्मगलिंग: बीजेपी ने कांग्रेस नेता केसी वेणुगोपाल पर लगाया आरोप

नई दिल्ली: केरल गोल्ड स्मगलिंग मामले में एनआईए कोर्ट ने कस्टम्स को आरोपी स्वप्ना सुरेश और संदीप नायर से पूछताछ की अनुमति दे दी है. उधर, केरल कस्टम्स की टीम ने सीपीओ जयघोष के ठिकानों पर छापा मारा है.

टीम ने तिरुवनंतपुरम के ठिकानों पर छापेमारी की है. जयघोष यूएई कॉन्सुलेट जनरल में गनमैन रहा चुका है. उसे मंगलवार को ही सस्पेंड किया गया. इससे पहले एनआईए ने इस मामले में मंगलवार को कहा कि स्वप्ना सुरेश ने भारत की आर्थिक स्थिति को नुकसान पहुंचाने के लिए साजिश रची.

जांच एजेंसी ने कोर्ट को बताया कि स्वप्ना सुरेश और संदीप नायर ने मिलकर भारत की मौद्रिक स्थिरता को नुकसान पहुंचाने की साजिश रची. वे विदेशों से बड़ी मात्रा में सोने की तस्करी करके अर्थव्यवस्था को अस्थिर करना चाहते थे.

एनआईए के अनुसार संदीप नायर ने जांच अधिकारियों को बताया कि केटी रमीज (आरोपी) ने बड़ी मात्रा में सोने की तस्करी पर जोर दिया. तस्करी की घटना लॉकडाउन के दौरान बढ़ गई थी, क्योंकि देश की आर्थिक स्थिति कमजोर है.

संदीप ने कथित तौर पर यह भी कहा कि केटी रमीज निर्देश देता था और विदेश में जो भी उसके संपर्क हैं उसका वह इस्तेमाल करता था. एजेंसी को यह भी शक है कि केटी रमीज के राज्य में राजनीतिक संबंध हैं और इसका इस्तेमाल वह कामकाज और तस्करी के रैकेट के संचालन के लिए कर रहा था.

बीजेपी ने लगाया इस नेता पर आरोप

बीजेपी नेता बी गोपालकृष्णन ने गुरुवार को संदेह जताया कि कांग्रेस नेता केसी वेणुगोपाल ने स्वप्ना सुरेश को सोने की तस्करी मामले में छिपाया हो सकता है। गोपालकृष्णन के अनुसार, वेणुगोपाल ने इस मुद्दे में हस्तक्षेप किया होगा क्योंकि वह राज्य में स्वप्ना के पहले प्रायोजक के रूप में हुए थे। कांग्रेस पर निशाना साधते हुए, भाजपा नेता ने यह भी कहा कि वे इस मुद्दे में वेणुगोपाल की भागीदारी के बारे में सबूत तैयार करने के लिए तैयार थे।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button