राष्ट्रीय

केरल लव जिहाद: सुप्रीम कोर्ट ने कहा- 24 साल की बेटी को कंट्रोल नहीं कर सकता पिता

सुप्रीम कोर्ट ने लव जिहाद के मामले में सुनवाई करते हुए केरल हाईकोर्ट के उस फैसले पर सवाल उठाया जिसमें राज्य की युवती की शादी को लव जिहाद की संज्ञा देकर रद्द कर दिया गया था।
चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा की अध्यक्षता वाली बेंच ने कहा कि हदिया के पिता की याचिका पर हाईकोर्ट ने शादी रद्द कर दी और उसे अपने पिता के घर वापस जाने का आदेश दे दिया गया। कोर्ट ने कहा कि 24 साल की लड़की को पिता नियंत्रण में नहीं रख सकता। मामले की अगली सुनवाई 9 अक्टूबर को होगी।

हदिया की शादी शफीन जहां से हुई थी। शफीन जहां ने हाईकोर्ट के फैसले को सुप्रीम कोर्ट में चैलेंज करते हुए याचिका दायर की थी जिसमें अदालत से 16 अगस्त के उस आदेश पर फिर से विचार करने की गुहार लगाई गई।

आदेश में राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) को इस मामले की जांच करने को कहा गया था। युवक ने अपनी याचिका में सुप्रीम कोर्ट से केरल पुलिस को युवती को कोर्ट में पेश करने का आदेश देने की मांग की थी। युवती इस समय अपने पिता के घर में रह रही है।

Back to top button