केरल – शादी के दिन मेहमानों से तोहफे में मांगी राहत सामग्री

जोड़े की हो रही तारीफ

तिरुवनंतपुरम : विवाह जिंदगी में एक बार होता है और हर कोई चाहेगा की उसकी जिदंगी का यह लम्हा यादगार रहे। मगर इस मामले में केरल का एक कपल सामान्य तरीके से विवाह कर सोशल मीडिया में छाया हुआ है।

संपन्न होने के बाद भी तिरुवनंतपुरम के इस कपल ने महज इसलिए बिना किसी बड़े समारोह के विवाह किया क्योंकि उनके राज्य में बाढ़ से हालात बहुत खराब हैं और लाखों लोगों की जिंदगी से इसपर असर पड़ा है। 17 अगस्त को विवाह संपन्न होने के बाद से सोशल मीडिया लोग इस कपल की जमकर तारीफ कर रहे हैं। खास बात यह है कि वज़हुथाकॉड के जिस इलाके में शरथ एस नायर और श्रद्धा थंपी ने विवाह किया वहां बाढ़ का असर नहीं पड़ा। लेकिन फिर भी दोनों अपने विवाह स्थल को राहत सामग्री के रूप में तब्दील कर दिया।

दरअसल कंपल जैसे ही मंच पहुंचा उन्होंने वहां आए मेहमानों से तोहफे में राहत सामग्री देने की अपील की। पेशे से नीजि फर्म में प्रोडक्शन मैनेजर शरथ ने मंच पर पहुंचकर कहा कि हाल के दिनों में राज्य के अलग-अलग हिस्सों में जीवन को भयभीत करने वाली बाढ़ को देख रहे हैं। ऐसे हालात में उन्होंने पत्नी और चचेरे भाई संग फैसला लिया है कि जो उन्हें उपहार स्वरूप मिलेगा उससे साथियों की मदद करेंगे। शरथ ने आगे कहा कि उन्हें सोशल मीडिया के जरिए जरुरी सामानों की जरुरतों को लेकर जानकारी मिली।

शरथ के मुताबिक उन्होंने विवाह के लिए एक व्हाट्सएप ग्रुप भी बनाया था। जिसमें विवाह से एक दिन पहले विवाह से शामिल होने से वाले सभी आमंत्रितों से कहा कि वो राज्य में बाढ़ के हालात के चलते पैसों और अन्य सामग्री के जरिए मदद कर सकते हैं। ऐसी ही घोषणा शादी में शामिल हुए लोगों के बीच की गई।

विवाह की शाम तक यही सिलसिला चलता रहा मदद का सिलसिला
शरथ कहते हैं कि छोटे से समय में भी लोगों से अपील का अच्छा रिजल्ट सामने आया है। बहुत से लोगों ने पैसे के अलावा, खाने, पीने के पानी, कपड़े, अनाज, बिस्कुट और दवाईंयों के रूप में मदद की। विवाह की शाम तक यही सिलसिला चलता रहा। सोशल मीडिया ग्रुप वेक अप केरल के संपर्क में रहे परिजनों ने उसी दिन पूरा सामान इकट्ठा कर उन्हें सौंप दिया।

Back to top button