केविन पीटरसन ने क्रिकेट को कहा अलविदा

अंतिम मैच 3 जनवरी 2014 को खेला था

नई दिल्ली : इंग्लैंड के दिग्गज बल्लेबाजों केविन पीटरसन ने क्रिकेट से संन्यास लेने का ऐलान कर दिया है। उन्होंने यह जानकारी अपने ट्विटर अकाउंट के माध्यम से दी। वहीं इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड ने भी टीम में सहयोग देने के लिए पीटरसन का धन्यवाद किया है। 37 वर्षीय पीटरसन ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अपना पहला मैच 21 जुलाई 2005 में आॅस्ट्रेलिया के खिलाफ खेला था आैर अंतिम मैच भी इसी टीम के खिलाफ 3 जनवरी 2014 को खेला था। उन्होंने अपने इस 9 साल के छोटे से करियर में कई शानदार पारियां खेली हैं, जिन्हें भूलाना आसान नहीं होगा। आइए जानें पीटरसन की उन 5 बड़ी ऐतिहासिक के बारे में-

1.158 बनाम आॅस्ट्रेलिया

आॅस्ट्रेलिया के खिलाफ 2005 में एशेज सीरीज के दाैरान पीटरसन द्वारा खेली गई 158 रनों की पारी इंग्लैंड के लिए काफी अहम रही थी। पीटरसन ने यह पारी उस समय खेली, जब इंंग्लैंड को इसकी जरूरत थी। पांच मैचों की सीरीज के आखिरी मैच में इंग्लैंड की पहली पारी 373 रनों पर ढेर हो गई। जवाब में आॅस्ट्रेलिया ने 367 रन बनाए। दूसरी पारी में उतरी इंग्लैंड की टीम ने 67 पर 3 विकेट गंवा दिए। ऐसा लगने लगा कि आॅस्ट्रेलिया वापसी करेगा, लेकिन पांचवे नंबर पर बल्लेबाजी करने आए पीटरसन ने सूझबूझ से खेलना शुरू किया आैर 15 चाैकों आैर 7 छक्कों की मदद से 158 रनों की पारी खेलकर मैच को अंतिम दिन तक पहुंचा दिया। उनकी इस पारी की बदाैलत मैच ड्रा पर समाप्त हुआ आैर इंग्लैंड ने 2-1 से एशेज सीरीज पर कब्जा किया। उनके इस शानदार प्रदर्शन की बदाैलत उन्हें ‘मैन आॅफ द मैच’ अवार्ड से भी नवाजा गया था।

2. 149 बनाम साउथ अफ्रीका

पीटरसन ने 2 अगस्त 2012 को हेडिंग्ले स्टेडियम में साउथ अफ्रीका के खिलाफ हुए टेस्ट मैच के दाैरान 214 गेंदों में 149 रनों की शानदार पारी खेली थी। इसमें 22 चाैके आैर 1 छक्का शामिल रहा। साउथ अफ्रीका ने पहली पारी में 419 रन बनाए। जवाब में इंग्लैंड ने 6 रन की बढ़त लेते हुए 425 रन बनाए। दूसरी पारी खेलने उतरी अफ्रीकी टीम ने इंग्लैंड के सामने 253 रनों का लक्ष्य रखा, लेकिन इंग्लैंड की टीम पांचवे दिन का खेल खत्म होने तक 4 विकेट पर 130 रन ही बना सकी आैर मैच ड्रा पर समाप्त हुआ। पीटरसन को उनकी शतकीय पारी की बदाैलत उन्हें ‘मैन आॅफ द मैच’ का पुरस्कार दिया गया।

3. 110 बनाम न्यूजीलैंड

इंग्लैंड-न्यूजीलैंड के बीच 15 जून 2008 में 5 वनडे मैचों की सीरीज का पहला मैच खेला गया। इस मैच में पीटरसन ने कीवी गेंदबाजों की खूब धुलाई की थी आैर 112 गेंदों में 110 रनों की शतकीय पारी खेली। उनकी पारी में 8 चाैके आैर 3 छक्के भी शामिल रहे। पीटरसन की इस पारी की बदाैलत इंग्लैंड ने न्यूजीलैंड के सामने 308 रनों का विशाल स्कोर रखा। जवाब में उतरी न्यूजीलैंड की पूरी टीम 42.5 ओवर में 193 रनों पर ही ढेर हो गई आैर इंग्लैंड ने यह मैच 114 रन से जीत लिया। ‘मैन आॅफ द मैच’ का पुरस्कार पीटरसन को दिया गया।

4. 202 बनाम भारत

पीटरसन ने 21 जुलाई 2011 को भारतीय क्रिकेट टीम के खिलाफ पहली पारी में 202 रनों की नाबाद पारी खेलकर इंग्लैंड टीम की जीत पक्की कर दी थी। उनकी इस पारी की बदाैलत इंग्लैंड ने पहली पारी 8 विकेट पर 474 रनों पर घोषित की। जवाब में भारत की पहली पारी 286 पर आॅलआउट हो गई। इंग्लैंड ने दूसरी पारी में 269 रन बनाकर भारत के सामने 458 रनों का लक्ष्य रखा, लेकिन महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में भारतीय टीम 261 पर आॅलआउट हो गई आैर इंग्लैंड ने यह मैच 196 रन से जीत लिया। पीटरसन को ‘मैन आॅफ द मैच’ के अवाॅर्ड से नवाजा गया।

5. 130 बनाम पाकिस्तान

पीटरसन ने 21 फरवरी 2012 को दुबई स्टेडियम में पाकिस्तान के खिलाफ हुए वनडे मैच में 12 चाैकों 2 छक्कों की मदद से 153 गेंदों में 130 रनों की पारी खेली थी। यह उनके वनडे करियर की सबसे बड़ी पारी भी रही। पाकिस्तान ने टाॅस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए इंग्लैंड के सामने 238 रनों की लक्ष्य रखा, लेकिन पीटरसन की शतकीय पारी की बदालैत इंग्लैंड ने यह मुकाबला शेष 4 गेंदें रहते हासिल कर लिया।

advt
Back to top button