खटौली हत्याकांड : चार लोगों की हत्या के लिए पिस्टल मुहैया कराने वाले दोनों आरोपी गिरफ्तार

पुलिस ने हत्यारोपी लवली और रामकुमार से पूछताछ के दौरान यह साक्ष्य जुटाए थे।

16 नवंबर को खटौली में एक ही परिवार के चार लोगों की हत्या करने के लिए जिस पिस्टल का इस्तेमाल किया गया था, उसके सप्लायर पुलिस के हत्थे चढ़ गए हैं। दोनों आरोपी राजिंदर और ओंकार मुजफ्फरनगर के रहने वाले हैं।

पुलिस उन्हें वहीं से से गिरफ्तार करके लाई है। पुलिस ने हत्यारोपी लवली और रामकुमार से पूछताछ के दौरान यह साक्ष्य जुटाए थे।

इसके बाद पंचकूला पुलिस ने यूपी पुलिस की मदद से इन्हें पकड़ लिया। पुलिस ने बताया कि रामकुमार की मुलाकात राजिंदर से काफी पहले हुई थी। राजिंदर से ही रामकुमार ने देसी पिस्टल चालीस हजार में खरीदी।

सीआईए इंस्पेक्टर अमन ने बताया कि सभी आरोपियों से पूछताछ के बाद हत्या में इस्तेमाल बाइक, कपड़े पहले ही बरामद किए जा चुके थे। अब देसी पिस्टल भी मिल गई है।

मोहित को पकड़ने के लिए पुलिस कर रही छापेमारी

मामले में फरार आरोपी मोहित को पकड़ने के लिए पुलिस लगातार छापेमारी कर रही है। दावा है कि वह भी जल्द पकड़ा जाएगा।

काल्पी गांव में फारेंसिक टीम के साथ पहुंचे थाना प्रभारी

चंडीमंदिर थाना प्रभारी नवीन कुमार फारेंसिक टीम के साथ काल्पी गांव का दौरा कर चुके हैं। यहां सुधा की लाश को जलाकर खेत में दबा दिया गया था। फोरेंसिक टीम मिट्टी के सैंपल लेकर आई है।

कोर्ट ने लवली को आज पेश करेगी पुलिस

खटौली हत्याकांड की आरोपी मृतक राजबाला की बेटी लवली को पुलिस बुधवार को कोर्ट में पेश करेगी। मोहित की सुरागकशी को आधार बनाकर लवली का रिमांड मांगेगी। लवली को इसके पहले पुलिस सात दिन रिमांड में रख चुकी है।

ये है मामला

याद दिला दें कि 16 नवंबर को दादी राजबाला, दो पोते दिव्यांश व आयुष और पोती ऐश्वर्या की हत्या हो गई थी। आरोप है कि लवली और उसके पति रामकुमार, ममेरे भाई मोहित ने मिलकर सभी की हत्या की है। इसमें अभी तक मोहित पुलिस की पकड़ से बाहर है।<>

1
Back to top button