क्राइम

नाबालिग लड़की का अपहरण और फिर मकरोहर पहाड़ी पर मिला कंकाल…अब तक नहीं मिला इन्साफ!

मामला दबाने के लिए चौकी इंचार्ज प्रियंका मिश्रा और कुछ सिपाहियों को सस्पेंड कर दिया

ब्युरो चीफ : विपुल मिश्रा

संवाददाता : शिव कुमार चौरासिया

ज्ञात हो की आज रामनुजगंज के बजरंग दल द्वारा गुडिया (बदला हुआ नाम ) को रामनुजगंज के भारत माता चौक पर मोमबत्ती जला कर एवं मौन रखकर श्रद्धांजलि दिया गया एवं सिंगरौली पुलिस प्रशासन का विरोध प्रदर्शन कर नारे बाजी हुई ।

इस लड्की को गाँव के ही आलम अंसारी और सलाउद्दीन अंसारी और साथियों के द्वारा अपहरण कर उठा ले गए और बारी बारी से 1 हफ्ते तक इस भोली मासूम को नोचते रहे ये सभी मामला जुन महिने में ही हुआ है उसके बाद 18 जुन को लड़की के पिता रिपोर्ट दर्ज कराने पुलिस चौकी सासन शिवपहरी गए तो वहाँ से इन्हें भगा दिया गया फिर ये दुबारा 3 दिन बाद गए तो प्रवीण तिवारी नाम के मुन्शी ने इनसे बद्त्मीजी करके अभद्र बोलकर भगा दिया और नामजद मामला लिख लिए,,

जैसा कि इन्होने बताया बाद में मकरोहर पहाड़ी के पास इस लड़की का कंकाल कपड़ो में लपेटा हुआ मिला जिसे इसके पिता ने पहचान लिया ,,,उसके बाद पुलिस ने औपचारिकता पूरी करने और मामला दबाने के लिए चौकी इंचार्ज प्रियंका मिश्रा और कुछ सिपाहियों को सस्पेंड कर दिया और आलम अंसारी को हिरासत में लेकर मामले को ठंडे बस्ते में डाल दिया 2 महीने से हम सबकी नजर इनके एक एक स्टेप पर है आरोपियों पर कानूनी कारवाई तो छोड़ दिजीये मामला तक सही से दर्ज नहीं हुआ है,,,

आगे की रणनीति

यदि आरोपियों पर कार्रवाई नहीं होती है तो बहुत जल्द देशव्यापी आन्दोलन होगा जिसका जिम्मेदार सोया हुआ कानुन और प्रशासन खुद होगा .

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button