नॉर्थ कोरिया की धमकी: कहा- US पर गिराएंगे हाइड्रोजन बम

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने उत्तर कोरिया पर नए प्रतिबंध लगाने का आदेश जारी कर दिया है। अमेरिकी राष्ट्रपति के इस आदेश से निराश प्योंगयांग के नेता किम जोंग उन ने ट्रंप को पागल बताते हुए कहा है कि उसका यह परमाणु और मिसाइल कार्यक्रम जारी रहेगा और वह अमेरिका के खिलाफ अन्य उपायों पर गंभीरता से विचार करेगा। इतना ही नहीं उत्तर कोरिया ने अमेरिका को अब तक की सबसे बड़ी धमकी भी दी है। प्योंगयांग ने कहा है कि अगर यूएस उसके खिलाफ किसी भी तरह की सैन्य कार्रवाई करता है तो वह अपना सबसे ताकतवर परमाणु बम प्रशांत महासागर में गिराएगा। उत्तर कोरिया के विदेश मंत्री री योन्ग-हो ने कहा कि प्रशांत महासागर में यह अब तक सबसे बड़ा हाइड्रोजन बम धमाका होगा। इससे पहले कोरिया ने पावर ग्रेड छोड़ने की धमकी दी थी.

ट्रंप ने मंगलवार को संयुक्त राष्ट्र में अपने पहले भाषण देने के दौरान उत्तर कोरिया को बबार्द करने की धमकी दी थी। ट्रंप ने उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन का मजाक उड़ाते हुए रॉकेट मैन कहा था। ट्रंप ने कहा कि किम को नहीं पता कि वो आत्महत्या करने की राह पर चल रहा है। अमेरिकी राष्ट्रपति ने उत्तर कोरिया पर नए प्रतिबंध की घोषणा करते हुए कहा कि चीन के सेंट्रल बैंक ने अन्य चीनी बैंकों को प्योंगयांग के साथ कारोबार रोकने के लिए कहा गया है। इससे पहले संयुक्त राष्ट्र ने भी उत्तर कोरिया के ऊपर परमाणु परीक्षण करने पर नए प्रतिबंध लगाए थे। सुरक्षा परिषद 2006 से अब तक नौ बार उत्तर कोरिया पर प्रतिबंध लगा चुका है। ट्रंप ने कहा कि मानवता के लिए सबसे ख़तरनाक हथियार विकसित करने के लिए उत्तर कोरिया को जिन स्रोतों से फंडिंग मिलती है, उन्हें रोकने के लिए ये कदम उठाए गए हैं। राष्ट्रपति ने कहा कि परणाणु हथियारों और मिसाइल कार्यक्रमों को फ़ंड करने के लिए उत्तर कोरिया बहुत लंबे समय तक अंतरराष्ट्रीय आर्थिक प्रणाली का दुरुपयोग करता रहा है। ये प्रतिबंध सिर्फ एक देश पर लगाए गए हैं और वह देश उत्तर कोरिया है।’

अमेरिका द्वरा उत्तर कोरिया पर नये प्रतिबंध लगाने के बाद से अब अमेरिका के राजकोष विभाग को उन कंपनियों और आर्थिक संस्थानों पर कार्रवाई करने का अधिकार मिल गया है, जिनसे व्यापारिक रिश्ते उत्तर कोरिया से हैं।

वित्त विभाग के मंत्री स्टीवन म्यूचिन ने कहा कि उत्तर कोरिया में कारोबार करने वाले बैंकों को अमेरिका में काम करने की अनुमति नहीं दी जाएगी। इससे पहले उत्तर कोरिया के विदेश मंत्री रि योंग हो ने ट्रंप के संबोधन की कड़ी आलोचना करते हुए कहा था कि संयुक्त राष्ट्र में ट्रप का संबोधन भौंकने की तरह लग रहा था। उन्होंने कहा, ‘कुत्ता भौंकता है, काफिला चलता रहता है।

advt
Back to top button