जानिये स्टेट बैंक की ओर से ग्राहकों को दी जाने वाली डोरस्टेप सुविधा के बारे में

मिनिमम लिमिट 1,000 रुपये और मैक्सिमम लिमिट 20,000 रुपये की

नई दिल्ली: कई बैंकों में ग्राहकों के लिए डोरस्टेप बैंकिंग यानी घर बैठे बैंकिंग की सुविधा उपलब्ध है. ग्राहकों को बैंक की ओर से घर पर कैश पिकअप, कैश डिलीवरी, चेक रिसीव करना, चेक मांग –पर्ची लेना, जीवन प्रमाणपत्र पिकअप, केवाईसी डॉक्युमेंट का पिकअप, ड्राफ्ट की डिलीवरी, फार्म 15 का पिकअप जैसी कई सुविधाएं मिलती हैं.

भारतीय स्टेट बैंक (SBI) में मिनिमम लिमिट 1,000 रुपये और मैक्सिमम लिमिट 20,000 रुपये की है. कैश विड्रॉल के लिए रिक्वेस्ट से पहले बैंक अकाउंट में पर्याप्त बैलेंस होना अनिवार्य है. ऐसा नहीं होने पर ट्रांजैक्शन कैंसिल हो जाएगा.

डोरस्टेप बैंकिंग सर्विस के द्वारा ग्राहक चेक जमा करने, पैसे निकालने और जमा करने, जीवन प्रमाण पत्र लेने जैसी कई सुविधाओं का घर बैठ लाभ ले सकते हैं. इस सर्विस से 70 साल से ज्यादा उम्र के बुजुर्ग, दिव्यांग व दृष्टि बाधित लोगों को अपने घर पर ही बैंकिंग सेवाएं प्राप्त करने में मदद मिलेगी. डोरस्टेप सर्विस के तहत बैंक का कोई कर्मचारी आपके घर आएगा और आपके कागज ले जाकर बैंक में जमा कर देगा.

किन ग्राहकों को नहीं मिलेगा डोर स्टेप बैंकिग का फायदा-

ज्वॉइंट खाते वाले ग्राहक को अवयस्कों के खाते यानी माइनर अकाउंट्स गैर-व्यक्तिगत प्रकृति वाले खाते कैसे ले सकते हैं इस सुविधा का लाभ बैंक के मोबाइल एप्लीकेशन, वेबसाइट या कॉल सेंटर के जरिए डोरस्टेप बैंकिंग सर्विस के लिए रजिस्टर किया जा सकता है.

इसके अलावा कामकाजी दिनों में टोल फ्री नंबर 1800111103 पर सुबह 9 बजे से शाम 4 बजे के बीच कॉल की जा सकती है. SBI डोरस्टेप बैंकिंग सर्विसेज के बारे में अधिक डिटेल्स के लिए ग्राहक https://bank.sbi/dsb पर विजिट कर सकते हैं. ग्राहक अपनी होम ब्रांच में भी संपर्क कर सकता है.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button