जानिए जिओं के 19 महीने के सफ़र में सस्ते ऑफर से लेकर मार्केट में मजबूती की वजह

मुकेश अंबानी ने की कंपनी रिलायंस जियो ने 19 महीने पहले टेलिकॉम सेक्टर में अपनी सेवाएं देना शुरू किया था।

जिओं ने अपने उपभोक्ताओं के लिए कम समय में नए नए प्लान्स दिए हैं,खबर के मुताबिक मुकेश अंबानी ने की कंपनी रिलायंस जियो ने 19 महीने पहले टेलिकॉम सेक्टर में अपनी सेवाएं देना शुरू किया था। इतने कम वक्त में कंपनी ने अपने मार्केट शेयर को 20 फीसदी तक कर लिया और ग्राहकों की हिस्सेदारी के मामले में भी 15.8 फीसदी के आंकड़े पर पहुंच गई।

जियो के ग्राहकों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। इतने कम वक्त में ही कंपनी रेवेन्यू मार्केट शेयर में कुमार बिड़ला ग्रुप की कंपनी आइडिया को पछाड़कर तीसरे नंबर पर पहुंच गई है। यही नहीं जियो अब कम कीमत में बेहतर प्लान की अपनी रणनीति के साथ वोडाफोन को भी पछाड़ने के करीब है।

कम दाम में ज्यादा बेहतर ऑफर के अलावा भी कई वजहें हैं, जिनके चलते जियो ने अपने प्रतिस्पर्धियों की नींद उड़ाई है। बैंक ऑफ अमेरिका मेरिल लिंच के मुताबिक जियो के चलते मोबाइल अब मास एंटरटेनमेंट डिवाइस बन चुका है। ब्लूमबर्ग में प्रकाशित रिपोर्ट के मुताबिक जियो के आधे से ज्यादा कस्टमर लाइव टेलिविजन देखने के लिए इंटरनेट कनेक्शन का इस्तेमाल करते हैं।

कंपनी के जियो टीवी और जियो सिनेमा जैसे उपभोक्ताओं के लिए एक ही जगह पर कई तरह के मनोरंजन का साधन बन चुके हैं। इसके लिए उन्हें अलग से कोई ऐप डाउनलोड करने और तमाम तरह की सर्फिंग और सर्चिंग की जरूरत नहीं पड़ती। सितंबर 2016 में जियो की शुरुआत के बाद से देश में डेटा के इस्तेमाल में तेजी से इजाफा हुआ है।

‘5 साल बाद 18 जीबी डेटा यूज करेगा हर शख्स’

ट्राई के तिमाही डेटा के मुताबिक औसत भारतीय फिलहाल प्रति महीना 2 जीबी तक डेटा इस्तेमाल करता है। जियो की लॉन्चिंग से पहले यह आंकड़ा 0.23 जीबी का था। कंसल्टेंसी फर्म अर्न्स्ट ऐंड यंग के मुताबिक अगले 5 सालों में यह आंकड़ा प्रति महीने 18 जीबी तक पहुंचने की उम्मीद है।

Back to top button