छत्तीसगढ़

संत अन्ना विद्यालय के छात्र-छात्राओं को मिली कानून की जानकारी

मनोज मिश्रा :

सांकरा जोंक: महासमुंद जिले के थाना साकरा के प्रभारी वीणा यादव द्वारा संत अन्ना विद्यालय के छात्र-छात्राओं को बाल लैंगिक अपराध, ट्रैफिक नियम, वाहन चलाते समय मोबाइल से बात नहीं करने, हेलमेट पहनने सहित विद्यालय में अनुशासित ढंग से रहकर विद्या अध्ययन हेतु प्रेरित किया गया। साथ ही साथ छात्र-छात्राओं को गुटखा सिगरेट एवं नशीले पदार्थों से दूर रहने के समझाइश दी गई।

थाना प्रभारी ने साइबर के बारे में तथा बैंक खाता सहित एटीएम के बारे में किसी भी नए व्यक्ति एवं अनचाहे मोबाइल पर आने वाले व्यक्ति को भी जानकारी देने के लिए मना करने सहित सोशल नेटवर्क जैसे फेसबुक व्हाट्सएप आदि का भी उपयोग अपने सुविधानुसार परिवार के उपयोग के लिए कहा गया

तथा अनावश्यक रूप से किसी भी दूसरे ग्रुप में जुड़ने सहित किसी अनचाहे अपरिचित व्यक्ति द्वारा डाले गए अश्लील मैसेज या अश्लील फोटो को अपने मोबाइल में लाइक एवं शेयर न करने सहित डाउनलोड करने हेतु भी मना किया गया।

शादी विवाह सहित पार्टियों में अंग प्रदर्शन करने वाले छोटे कपड़ों से भी दूर रहने हेतु छात्राओं को प्रेरित किया गया क्योंकि इसी प्रकार के कपड़े पहनने से समाज में छेड़खानी की घटनाएं बढ़ती है।

गांव में बाहर से आने वाले अपरिचित एवं संदिग्ध फेरीवाले के बारे में जानकारी अपने परिवार सहित गांव के कोटवार को भी देने हेतु कहा गया साथ ही साथ किसी भी संदिग्ध व्यक्ति के बारे में भी जानकारी गांव के कोटवार एवं संबंधित थाने में भी सूचना देने हेतु प्रेरित किया गया।

बाल अधिकार एवं समाज एवं परिवार में अपने कर्तव्य के बारे में छात्र छात्राओं के साथ थाना प्रभारी ने विचारों को साझा किया तथा असामाजिक व्यक्तियों से दूर रहने हेतु कहा गया उक्त कार्यक्रम में संत अन्ना विद्यालय के प्राचार्य सिस्टर सिसली सिस्टर फोर्स टीना सहित स्टाफ एवं थाना साकरा के भी उपस्थित थे।

Summary
Review Date
Reviewed Item
संत अन्ना विद्यालय के छात्र-छात्राओं को मिली कानून की जानकारी
Author Rating
51star1star1star1star1star
congress cg advertisement congress cg advertisement
Tags