कोण्डागांव पुलिस को मिली बड़ी सफलता, चोरी के 8 आरोपी गिरफ्तार

-10 किलो चांदी एवं लगभग 200 ग्राम सोना बरामद

दुर्गानाथ देवांगन

-मुख्य आरोपी कन्हैया साहू चोरी के कई वारदातों में था शामिल

कोण्डागांव।

पुलिस अधीक्षक कोण्डागांव अरविन्द कुजूर के निर्देशन में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अन्नत कुमार साहू के मार्गदर्शन एवं एसडीओपी कपिल चन्द्रा के पर्यवेक्षण तथा थाना प्रभारी कोण्डागांव के नेतृत्व में चोरी के प्रकरणों के आरोपियों की पतासाजी हेतु विशेष अभियान चलाया जा रहा है। इसी तारतम्य में सूचना प्राप्त हुआ कि चोरी के एक आरोपी को पुरानी बस्ती थाना पुलिस रायपुर द्वारा गिरफ्तार किया गया है.

जिसकी कोण्डागांव में हुए चोरी की सीसीटीवी फुटेज के आधार में मिलना किया गया एवं संदेह के आधार पर आरोपी कन्हैया साहू पिता हीरा सिंह साहू उम्र 32 वर्ष साकिन बोरियाकला ब्राम्हण पारा अश्वनी किराना स्टोर्स के पास थाना मुजगहन जिला रायपुर का पुलिस रिमाण्ड लेकर पूछताछ किया गया।

पूछताछ में आरोपी कन्हैया साहू ने बताया कि लगभग 10-12 वर्षो से रायपुर बिलासपुर, बलौदाबाजार, महाराष्ट्र आदि जगहों में जाकर चोरी किया था जिसमें पकडा गया था । वर्ष 2018 में 22 – 23 अप्रैल के आसपास जगदलपुर में घर संसार दुकान के पास एक मकान में पीछे से प्रवेश कर चांदी का पायल एवं सोने के मंगलसूत्र, झूमका, अंगूठी, लाकेट और नगदी रकम 800 रूपये चोरी किया था। इसके बाद 6 – 7 मई 2018 के आसपास कोण्डागांव में सुन्दर ज्वेलर्स के दुकान में घर के पीछे से छत के उपर से अंदर घुसने की कोशिश किया।

किन्तु घर के अंदर नही घुस पाया तब वह बगल वाले दुकान मनोज ड्रेसेस के पीछे से लोहे का जाली को काटकर अंदर घुसा। घर के कुछ कमरा में लोग सो रहे थे, उन कमरों का बाहर से कुण्डी लगा दिया एवं एक कमरा जिसमे कोई व्यक्ति नही था, उस कमरे में रखे आलमारी को तोड कर आलमारी से अंगूठी, चैन, एवं सोने चांदी का सामान चोरी किया और दुकान के गल्ले में से नगदी रकम 8000 रूपये तथा एक जोड़ी जीन्स पैन्ट और टीशर्ट चोरी किया था। इसके लगभग एक महीने बाद 4- 5 जून 2018 के रात्रि में कोण्डागांव बाजार के पास एक ज्वेलरी दुकान में चोरी करने पीछे से घुसा, किन्तु उस दुकान में नही घुस पाया।तब दुकान के बगल मे एक घर का दरवाजा खुला हुआ दिखा, जहां एक बुढी औरत सो रही थी।

उस घर में घुसकर सोने के अंगूठी, चैन, कंगन, चांदी का पायल एवं अन्य सोने चांदी के जेवर एवं कुछ नगदी रकम चोरी किया था। इसके बाद 8 – 9 जून 2018 के रात्री में फिर से कोण्डागांव आकर सुन्दर ज्वेलर्स के पीछे से छत पर चढ़कर दरवाजा का कुण्डी तोडकर अंदर घुसकर सोने के अंगूठी, मंगलसूत्र, बाली, झुमका, कंगन, लाकेट चैन एवं अन्य छोटे छोटे सोने के समान लगभग 800 – 900 ग्राम तथा चांदी का पायल, करधन आदि लगभग 4.5 किलो ग्राम तथा नगदी लगभग 3000 – 4000 रूपये चोरी किया।

लगभग 2 महीने बाद 23 – 24 अगस्त के रात्रि में कोण्डागांव स्थित शांति मेडिकल स्टोर के पास ज्वेलरी दुकान मे चोरी करने हेतु घुस रहा था, किन्तु वहां पर एक महिला जाग गई और हल्ला कर दी और मै वहां से भाग गया। फिर उसके एक दिन बाद वह केशकाल में एक मेडिकल स्टोर के साथ लगे ज्वेलरी दुकान मे घुसा, किन्तु ज्वेलरी दुकान में कोई सामान नही था, मेडिकल स्टोर से नगदी 7000 रूपये चोरी किया था। उसके बाद उसी रात को एक बगल वाले घर में घुसकर गले का हार, अंगूठी, कड़ा, ब्रेसलेट नगदी रकम 11000 रूपये चोरी किया था ।

जिस रात सुन्दर ज्वेलर्स मे चोरी किया उसके सुबह चोरी करने के बाद पीछे के रास्ते से निकलकर बस स्टैण्ड के पास बस का इंतजार कर रहा था, तभी एक मिनी ट्रक वाला वहां पर चाय पीने के लिए रूका। जिस पर वह बैठकर कांकेर तक गया था, कांकेर से बस में बैठकर अपने घर तक गया था। वह चोरी किए गए सोने चांदी के जेवरों मे चांदी के जेवर लगभग 5 किलो तथा सोने के 300 ग्राम करीब जेवर माना कैम्प स्थित एक बंगाली के जेवर दुकान मे बेचा था।

चोरी किये गये जेवरात में से चांदी के जेवर लगभग 7-8 किलो को अपने घर के उपर छिपाकर रखना तथा लगभग 5 किलो ग्राम चांदी तथा सोना बंगाली दादा को दिया था, शेष जेवरों में से सोनें के जेवरो को मणिप्पुरम गोल्ड फाइनेंस कम्पनी में अपने नाम पर लगभग सोना जमा कर लगभग 8 लाख रूपये लोन लिया था। कन्हैया साहू अपने साथी सूरज बघेल 02. नोवल सहतोडे 03. सुनील बंजारे 04. पुरूषोत्तम धीवर 05. पीयुष गुप्ता 06. जनक धीवर के नाम पर मणप्पुरम गोल्ड फाइनेंस कम्पनी से लोन स्वीकार किया है।

Back to top button