अभी तक नहीं हुआ कोंडागांव सीईओ के खिलाफ FIR दर्ज, जनताओं में आक्रोश

महिलाकर्मियों को व्हाट्सएप पर अश्लील मैसेज भेजने का आरोप

कोण्डागांव : जिला पंचायत कोंडागांव के सीईओ संजय कन्नौजे के खिलाफ अब तक FIR दर्ज नहीं किए जाने से जन आक्रोश बढ़ रहा है मामले को लेकर सरपंच संघ सचिव संघ सहित विभिन्न राजनीतिक दल आंदोलन की राह पर हैं.

वहीं गुरुवार को दिनभर सरपंच संघ एवं सचिव संघ का आंदोलन का दौर चला जहां पुलिस अधीक्षक कार्यालय के सामने ही जमकर नारेबाजी की गई मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस अधीक्षक कार्यालय के सामने पुख्ता सुरक्षा व्यवस्था का इंतजाम किया गया था.

जांच एवं बयान पूर्ण होने के बावजूद जिला पंचायत के सीईओ के खिलाफ अब तक FIR दर्ज नहीं किए जाने से जन आक्रोश बढ़ता ही जा रहा है पूरे क्षेत्र में यह चर्चा जोरों पर है कि आखिर सीईओ संजय कनौजिया को किस का संरक्षण प्राप्त है.

सीइओ के खिलाफ एफआइआर दर्ज कराने सचिव संघ व कर्मचारी एसपी ऑफिस के सामने लगा रहे नारे
अपने अधीनस्थ महिलाकर्मियों को व्हाट्सएप पर अश्लील मैसेज भेजने का आरोप लगा था, जिसके बाद तत्काल प्रभाव से कोण्डागांव से रायपुर अटैच कर दिया गया है.

कोण्डागांव सीइओ की मुसीबत थमने का नाम नहीं ले रही है। अभी अभी पीएम आवास के लिए दिल्ली में मिले सम्मान के बाद अब कथित मामला तूल पकडऩे लगा है।

सीइओ की गिरफ्तारी के लिए जिला सचिव संघ व संविदा कर्मचारी संघ के लोग एसपी ऑफिस के सामने नारे लगा रहे है। सीइओ की इस हरकत के बाद सीइओ का तत्काल प्रभाव से हटाकर उन्हें रायपुर स्थित अटल नगर में उप सचिव मंत्रायल अटैच कर दिया गया है।

यहां पढ़े क्या है पूरा मामला

महिलाओं को व्हाट्सएप मेसेज करने के मामले में कोंडागांव के जिला पंचायत सीईओ डॉ संजय कन्नौजे को राज्य सरकार द्वारा तत्काल प्रभाव से हटा दिया गया है.

उन पर अपने अधीनस्थ महिलाकर्मियों को व्हाट्सएप पर अश्लील मैसेज भेजने का आरोप लगा था। सरकार ने इस मामले को गंभीरता से लेते उक्त कार्रवाई की।

प्रधानमंत्री आवास योजना में बेहतरीन कार्य करने के लिए मंगलवार को
खास बात यह है कि प्रधानमंत्री आवास योजना में बेहतरीन कार्य करने के लिए मंगलवार को ही जिला पंचायत सीईओ कन्नौजे को नई दिल्ली में केंद्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर द्वारा पुरष्कृत किया गया था.

बता दें कि प्रधानमंत्री आवास योजना के बेहतर क्रियान्वयन हेतु कोंडागांव जिले को छत्तीसगढ़ में प्रथम स्थान मिला था और इसी दिन उन पर महिला कर्मचारियों ने व्हाट्सएप पर अश्लील मेसेज भेजने की शिकायत दर्ज की थी.

Tags
Back to top button