कोलकाता: आतंकवादी हमले को नाकाम करने के लिए दुर्गा पूजा उत्सव के मद्देनजर सुरक्षा कड़ी की गई

कोलकाता. कोलकाता पुलिस ने सोमवार से शुरू हुए दुर्गा पूजा उत्सव के दौरान किसी भी आतंकवादी हमले को नाकाम करने के लिए अपने विशेष बलों के कमांडो की तैनाती सहित सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए हैं।

एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि उत्सव के दौरान विभाजनकारी और आतंकवादी संगठनों के शांति एवं सद्भाव को बिगाड़ने के खतरों को देखते हुए सभी प्रकार के एहतियाती उपाय किए गए हैं। कोलकाता पुलिस ने शहर में 38 बिंदुओं पर अपने लड़ाकू बटालियन और विशेष मारक (स्ट्राइकिंग) बल के कमांडो और 31 त्वरित गश्ती दलों को तैनात करने का फैसला किया है।

आईपीएस अधिकारी ने कहा, ” इस साल दुर्गा पूजा उत्सव के दौरान शहर और उसके आसपास त्रिस्तरीय सुरक्षा व्यवस्था रहेगी। शहर के दक्षिण और दक्षिण-पश्चिम हिस्सों में तीन संभागों में, हमारे पास कम से कम 18 गश्ती दल होंगे और शेष समूह उत्तर और मध्य कोलकाता में तैनात रहेंगे। कम से कम 13 त्वरित प्रतिक्रिया दल भी तैनात किए गए हैं।”

पश्चिम बंगाल सरकार ने आतंकवादी खतरों का हवाला देते हुए राज्य में दुर्गा पूजा उत्सव के मद्देनजर पुलिस को ‘अलर्ट’ पर रखा है।

उन्होंने बताया कि प्रमुख चौराहों पर कम से कम 13 विशेष ‘हेवी रेडियो फ्लाइंग स्क्वॉड'(एचआरएफएस) को तैनात किया गया है। मेट्रो स्टेशनों, बाजारों, शॉपिंग मॉल, लोकप्रिय स्मारकों और महत्वपूर्ण सरकारी कार्यालयों में सुरक्षा बढ़ा दी गई है। सभी सामुदायिक पूजा समितियों को पंडालों में पर्याप्त संख्या में स्वयंसेवकों को तैनात करने को कहा गया है ताकि संदिग्ध व्यक्तियों की आवाजाही पर नजर रखी जा सके और किसी भी आपात स्थिति में पुलिस को समय रहते सूचित किया जा सके। बड़े दुर्गा पूजा पंडालों में सीसीटीवी कैमरे और ‘वॉचटावर’ स्थापित करना भी अनिवार्य है।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button