कोरबा : कोरोना मरीजों के ईलाज के लिए बालाजी कोविड अस्पताल में बढ़ेंगे 20 आक्सीजन युक्त बिस्तर

कलेक्टर ने शासकीय और निजी कोविड अस्पतालों में ईलाज और उपलब्ध संसाधनों की समीक्षा की

सीएसईबी वेस्ट अस्पताल की व्यवस्था दो दिन में सुधारने के दिए कड़े निर्देश

कोरबा 17 अप्रैल 2021 : हाल ही में शुरू हुए बालाजी कोविड अस्पताल में आने वाले दो-तीन दिनों में 20 से 25 आॅक्सीजन युक्त नए बेड लगाए जाएंगे। इसके साथ ही इस अस्पताल में 70 से 75 कोरोना पीड़ित गंभीर मरीजों के ईलाज की सुविधा विकसित हो जाएगी। जिले के सबसे पुराने और बड़े ईएसआईसी जिला कोविड अस्पताल में गंभीर कोरोना संक्रमितों का ईलाज प्राथमिकता से किया जाएगा।

अस्पताल में ईलाज कराकर गंभीर अवस्था से समान्य अवस्था तक ठीक हो चुके मरीजों को आगामी देखभाल और ईलाज के लिए सीपेट के कोविड अस्पताल में भर्ती कराया जाएगा ताकि दूसरे गंभीर मरीजों को त्वरित उपचार के लिए ईएसआईसी कोविड अस्पताल में भर्ती कराया जा सके। कोरबा जिले में तेजी से बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए कलेक्टर किरण कौशल ने आज जिले में संचालित कोरोना का ईलाज करने वाले सभी दस अस्पताल का निरीक्षण और समीक्षा वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के माध्यम से की। इस दौरान जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी कुंदन कुमार, अतिरिक्त जिला दण्डाधिकारी एस. जयवर्धन, सीएमएचओ डाॅ. बी. बी. बोडे, नोडल अधिकारी एवं डिप्टी कलेक्टर आशीष देवांगन सहित सभी अस्पतालों के प्रभारी डाॅक्टर वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बैठक में शामिल हुए।

बढ़ते कोरोना संक्रमण से निपटने और मरीजों को बेहतर ईलाज उपलब्ध कराने के लिए इस महत्वपूर्ण बैठक में कलेक्टर  कौशल ने कोविड अस्पतालों में उपलब्ध संसाधनों और ईलाज के तरीकों की विस्तृत समीक्षा की। उन्होंने सभी अस्पतालों के प्रभारी डाॅक्टरों से मरीजों के ईलाज के लिए डाॅक्टरों से लेकर पैरा मेडिकल स्टाफ तक की जानकारी मांगी। कौशल ने अस्पतालों में दवाईयां और कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए पीपीई किट आदि की उपलब्धता के बारे में भी पूछा।

डेड बाॅडी मेनेजमेंट

उन्होंने अस्पतालों मे डोनिंग-डोफिंग की व्यवस्था से लेकर बायो मेडिकल वेस्ट मैनेजमेंट और डेड बाॅडी मेनेजमेंट तक पर अस्पताल वार समीक्षा की। कलेक्टर ने अस्पतालों में उपलब्ध कुल बिस्तरों में से ऑक्सीजन युक्त बिस्तरों की संख्या के बारे में भी जानकारी ली।  कौशल ने समय पर सभी अस्पतालों में ऑक्सीजन की उपलब्धता और खाली सिलेण्डरों की रीफिलिंग की पृथक व्यवस्था करने के निर्देश प्रभारी डाॅक्टरों को दिए। उन्होंने सभी शासकीय और निजी अस्पतालों सहित सार्वजनिक उपक्रमों  के कोविड अस्पतालों में भी आगामी दो महीने के लिए कोरोना संक्रमितों के ईलाज में जरूरी दवाओं, आक्सीजन सिलेण्डर और मानव संसाधन सहित अन्य जरूरतों का आंकलन कर डिमांड रिपोर्ट चैबीस घंटे के भीतर प्रस्तुत करने के निर्देश दिए और सभी प्रभारियों को यथा संभव आवश्यकतानुसार संसाधन एवं दवाई आदि उपलब्ध कराने का आश्वासन भी दिया।

कौशल ने सीपेट के कोविड केयर अस्पताल में जल्द से जल्द आॅक्सीजन पाईप लाइन लगाने का काम शुरू करवाने और मरीजों के ईलाज के लिए वर्तमान में ऑक्सीजन सिलेण्डरों की संख्या बढ़ाने के निर्देश सीएमएचओ डाॅ. बोडे को दिए। कलेक्टर ने सीपेट कोविड केयर अस्पताल में आने वाले दिनों में लगभग 700 मरीजों के ईलाज के लिए ऑक्सीजन, दवाई, डाॅक्टर, पैरा मेडिकल स्टाफ आदि सभी व्यवस्थाओं का आंकलन कर उसकी जल्द से जल्द व्यवस्था के निर्देश अधिकारियों को दिए।

कलेक्टर ने बालको अस्पताल प्रबंधन को अगले दो-तीन दिनों में बालको अस्पताल में कोविड मरीजों के ईलाज के लिए 50 ऑक्सीजन युक्त बिस्तर की व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। उन्होंने बालाजी कोविड अस्पताल में मरीजों के लिए बिजली से चलने वाले नाॅन इंवेसिव वेंटिलेटरों की भी व्यवस्था करने की कार्ययोजना को तत्काल प्रस्तुत करने को कहा। कौशल ने बालाजी अस्पताल में मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए 50 जम्बो और 40 छोटे अतिरिक्त आक्सीजन सिलेण्डर भी उपलब्ध कराने के निर्देश दिए।

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग

सीएसईबी वेस्ट, सीईटीआई गेवरा और सृष्टि अस्पताल की व्यवस्थाओं पर कलेक्टर ने जताई नाराजगी, दो दिनों में सभी तैयारियां पूरी करने दिए कड़े निर्देश – बैठक के दौरान कलेक्टर ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सीएसईबी वेस्ट, सीईटीआई गेवरा और सृष्टि अस्पताल में कोरोना मरीजों के ईलाज के लिए विकसित व्यवस्थाओं का अवलोकन किया।

कौशल ने इन तीनों अस्पतालों में आधी-अधूरी तैयारियों और कोविड मरीजों के ईलाज के दिशा-निर्देशों तथा मापदण्डों का कड़ाई से पालन नहीं करने पर अस्पताल प्रबंधनों के प्रति गहरी नाराजगी जताई। कौशल ने कड़े शब्दों में इन तीनों अस्पतालों के चिकित्सा अधिकारियों को अगले दो दिनो में मरीजों के ईलाज के लिए जरूरी सभी व्यवस्थाएं पूरी करने के निर्देश दिए। उन्होंने सीएमएचओ डाॅ. बोडे को दो दिन बाद जिला स्तरीय निरीक्षण दल भेजकर अस्पतालों का निरीक्षण कराने के लिए भी कहा।

कौशल ने इन अस्पतालों के डाॅक्टरों और पैरा मेडिकल स्टाफ को कोविड अस्पताल संचालन तथा मरीजों के ईलाज के लिए निर्धारित लाईन ऑफ़ ट्रीटमेंट के संबंध में भी विशेष प्रशिक्षण दिलाने के निर्देश दिए।

Tags
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button