क्राइमछत्तीसगढ़

नौकरी लगाने के नाम पर ठगी करने वाले संतोष महंत को कोतवाली पुलिस ने किया गिरफ्तार

आरोपी के घर से 125 महिला-पुरूष के फार्म, मेडिकल रिपोर्ट व कई सील-मुहर बरामद

हिमालय मुखर्जी ब्यूरो चीफ रायगढ़

आरोपी अपनी पत्नी व सहयोगी के साथ करीब 150 व्यक्तियों को बना चुका था ठगी का शिकार

कोतवाली थाने में दिनांक 25.07.2020 को शिकायतकर्ता कुसुम मनहर व अन्य महिलाओं द्वारा अनावेदकगण संतोष महंत व उसकी पत्नी शशिकला व उनके साथी वेन्दात साहू के विरूद्ध नौकरी लगाने के नाम पर ठगी करने के संबंध में आवेदन दिया गया था, जिस पर थाना कोतवाली में अप.क्र. 517/2020 धारा 420,34 IPC के तहत अपराध उपरोक्त आरोपीगण के विरूद्ध दर्ज कर विवेचना में लिया गया ।

विवेचना दरम्यान आरोपी संतोष महंत निवासी चमड़ा गोदाम आदर्श नगर जुटमिल के घर पर दबिश दिया गया, आरोपी संतोष महंत पकड़ में आया उसकी पत्नी शशिकला महंत व उसका साथी वेदान्त साहू फरार है।

भगवती मानव कल्याण संगठन समिति छत्तीसगढ़ रायगढ़

आरोपी संतोष महंत उर्फ पंचकूल पिता स्वर्गीय पलटन दास महंत उम्र 32 साल निवासी लिटाईपाली थाना पुसौर हाल मुकाम चमड़ा गोदाम आदर्श नगर चौकी जूटमिल थाना कोतवाली रायगढ़ अपने मेमोरेंडम कथन में बताया कि दिसंबर 2019 से मार्च-अप्रैल 2020 के मध्य अपनी पत्नी शशि महंत और सहायक वेदांत साहू निवासी जुटमिल रायगढ़ के साथ मिलकर भगवती मानव कल्याण संगठन समिति छत्तीसगढ़ रायगढ़ का सदस्य होना बताकर रायगढ़ एवं क्षेत्र के कुसुम मनहर पति प्रीतम मनहर निवासी ढिमरापुर पुरानी बस्ती रायगढ़ एवं अन्य करीब 100-125 महिला एवं पुरुष को विभिन्न नौकरी रसोईया, गार्ड, चालक, चपरासी, वार्ड आया आदि का नौकरी दिलाने के नाम पर अपने भगवती मानव कल्याण समिति का सदस्य बनाने के लिए प्रत्येक से ₹3000 और मेडिकल के लिए ₹500 लेता था।

मेडिकल जिंदल फोर्टिस अस्पताल

इसने उम्मीवारों को भरोसा दिलाने के लिये सभी का मेडिकल जिंदल फोर्टिस अस्पताल पतरापाली रायगढ़ में कराया और सभी से भगवती मानव कल्याण संगठन रायगढ़ छत्तीसगढ़ का सदस्य नियुक्ति फार्म करवाया। कोतवाली पुलिस आरोपी संतोष महंत के घर से 125 मेडिकल टेस्ट रिपोर्ट, भगवती मानव कल्याण संगठन के फार्म, कंपनी का सील मोहर, पीडितों के आधार कार्ड इत्यादि जप्त किया गया है। कोतवाली पुलिस उक्त संगठन/कम्पनी के संबंध में जानकारी ले रही है। आरोपी को आज शाम रिमांड पर भेजा गया है। उसकी पत्नी व सहयोगी फरार है, जिनकी गिरफ्तारी के लिये मुखबिर लगाये गये हैं।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button