कोतवाली पुलिस ने क्षेत्र में चोरी की वारदात को अंजाम देने वाले दो शातिर चोरों को पकड़ा

ऋषिकेश मुखर्जी:

रायगढ: कुछ दिनों से कोतवाली थाना क्षेत्र के कालोनियों में सूने मकानों को अपना निशाना बनाकर जेवरात नगदी चोरी की घटनाओं में माल मुल्जिम की पतासाजी करना कोतवाली पुलिस के लिए चुनौती बना हुआ था। पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार अग्रवाल द्वारा चोरी की इन वारदातों को काफी गंभीरता से लेते हुए स्वयं प्रत्येक चोरी के मामलों की डायरी की समीक्षा कर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक,

अज्ञात आरोपी पतासाजी व चोरी की सम्पत्ति की बरामदगी के लिए दिशा निर्देश

नगर पुलिस अधीक्षक व थाना कोतवाली प्रभारी निरीक्षक डी.के. मारकण्डे को अज्ञात आरोपी पतासाजी व चोरी की सम्पत्ति की बरामदगी के लिए दिशा निर्देश किए थे। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक एवं नगर पुलिस अधीक्षक के दिशा निर्देशन में कोतवाली पुलिस द्वारा अज्ञात आरोपियों की पतासाजी की जा रही थी।

थाना प्रभारी कोतवाली निरीक्षक मारकण्डे द्वारा शहर में अपने स्टाफ एवं मुखबिरों को सक्रिय कर ऐसे सभी संदिग्ध व्यक्तियों पर नजर रखने का निर्देश दिये थे जो पूर्व में चोरी के मामलों में चालान हुये हैं तथा वर्तमान में उनकी गतिविधियां कैसी है।

आकाश जयसवाल को चोरी के मामलों में चालान

इसी दौरान केवड़ा बाड़ी बस स्टैंड रैन बसेरा के पीछे रहने वाला आकाश जयसवाल जो पूर्व में भी चोरी के मामलों में चालान हुआ है। कुछ दिनों से लगातार बेहिसाब खर्च करने व जुआ में काफी पैसे हारने की सूचना मुखबिर द्वारा दिया गया।

इस सूचना पर निरीक्षक मारकण्डे ने थाने के सउनि इगेश्वर यादव व कुछ आरक्षकों को आकाश पर निगाह रखने के लिये निर्देशित किया जिस पर निगाह रखी जा रही थी। संदिग्ध आकाश जायसवाल भी पकड़े जाने के भय से पुलिस से लुक-छिप रहा था।

इसी बीच आकाश के शिवा नगर अपने निर्माणाधीन मकान में छिपे होने की जानकारी मिली जिसे कोतवाली पुलिस द्वारा दबिश देकर हिरासत में लिया गया। संदिग्ध आकाश ने पूछताछ में अपने एक साथी कोमल उर्फ दाऊ डनसेना के साथ मिलकर घरघोड़ा क्षेत्र में 02 जगह, खरसिया में 01 जगह, भूपदेवपुर क्षेत्र में 01 जगह

एवं कोतवाली में 01 जगह चोरी करना बताये तथा चोरी के माल को अपने शिवा नगर वाले घर के छत में रखना बताये। आरोपियों के मेमोरेंडम पर सोना 4.980 ग्राम, चांदी 813 ग्राम, चांदी के सिक्के कीमती ₹500000 एवं नकदी 5500, 04 मोबाइल व 01 सोनी कैमरा जप्त किया गया है।

अपराध क्रमांक 184/19 धारा 457, 380 IPC में गिरफ्तार

आरोपियों को थाना कोतवाली के अपराध क्रमांक 184/19 धारा 457, 380 IPC में गिरफ्तार किया गया है तथा शेष थाना घरघोड़ा, भूपदेवपुर, खरसिया के मामले में चोरी की संपत्ति होने के संदेह पर 41(1+4) CrPC/379 IPC के तहत कार्यवाही किया गया है । आरोपियों को आज 13.02.19 को गिरफ्तार कर न्यायालय पेश किया गया ।

उक्त मामले में आरोपी पतासाजी, मशरूका बरामदगी में थाना कोतवाली निरीक्षक डी. के. मारकण्डे, सउनि इगेश्वर यादव, आरक्षक हेम प्रकाश सोन, बृजलाल गुर्जर, संदीप कौशिक, प्रदीप गहलोत, धनंजय कश्यप, तरुण महिलांगे, अर्जुन एक्का, कमलेश यादव की सराहनीय भूमिका रही है ।

Back to top button