कृषि विज्ञान केन्द्र कांकेर कर चुका है नवाचार, अब केन्द्र सरकार ने देश भर में लागू किया

रायपुर. इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय के कृषि विज्ञान केन्द्र कांकेर द्वारा स्कूली बच्चों को आवश्यक पोषक तत्व उपलब्ध कराने के लिए स्कूलों में पोषण वाटिका स्थापित करने की नवाचारी पहल अब देश भर के 11 लाख से अधिक स्कूलों में लागू होगी। भारत सरकार के मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने सभी राज्यों के मुख्य सचिवों और शिक्षा सचिवों को पत्र लिखकर सभी स्कूलों में पोषण वाटिका स्थापित करने के निर्देश दिये हैं। पत्र में पोषण वाटिकाओं की स्थापना हेतु आवश्यक दिशा निर्देश भी जारी किये गये हैं।

पोषण वाटिकाओं के स्थापना हेतु कृषि विज्ञान केन्द्रों, कृषि, उद्यानिकी एवं वन विभागों और कृषि विश्वविद्यालयों से आवश्यक तकनीकी सहयोग एवं मार्गदर्शन प्राप्त करने के लिए कहा गया है। स्कूलों में पोषण वाटिका स्थापित करने का उददे्श्य विद्यार्थियों को ताजे फलों एवं सब्जियों के रूप में आवश्यक पोषक तत्व उपलब्ध कराने के साथ-साथ पर्यावरण संरक्षण तथा विद्यार्थियों में बागवानी का कौशल विकास करना है। उल्लेखनीय है कि कृषि विज्ञान केन्द्र कांकेर द्वारा वर्ष 2015-16 में जिले के कुछ स्कूलों में प्रायोगिक तौर पर पोषण वाटिका स्थापित करने की पहल की गई थी।

Back to top button