कुदरत का कहर,3 फीट मोटी बर्फ पर 10 किलोमीटर तक पैदल चली बारात, फिर हुई शादी

रुद्रप्रयाग से 80 किलोमीटर दूर ऊखीमठ ब्लाक के त्रियुगीनारायण गांव में लगातार बर्फबारी के बीच हर्षमणि के घर में शादी की तैयारियां चल रही थी

रूदप्रयाग।

उत्तराखंड में बर्फबारी ऐसे हो रही है मानो बर्फ नहीं कहर बरस रहा है. त्रियुगीनारायण में दूल्हा 3 फीट बर्फ में 10 किलोमीटर पैदल चलकर अपनी दुल्हन के पास पहुंचा और परिणय सूत्र में बंध ईश्वर का आशीर्वाद लेकर अपना दाम्पत्य जीवन की शुरुआत की.

रुद्रप्रयाग से 80 किलोमीटर दूर ऊखीमठ ब्लाक के त्रियुगीनारायण गांव में लगातार बर्फबारी के बीच हर्षमणि के घर में शादी की तैयारियां चल रही थी. गुरुवार आधी रात से एक बार फिर से जो बर्फबारी शुरू हुई उसने रुकने का नाम ही नहीं लिया.

बारात पास के गांव मक्कूमठ जानी थी. भारी बर्फबारी को देखते हुए तय किया गया कि 25-30 लोग ही बारात में जाएंगे, लेकिन जिन वाहनों में बैठकर बारातियों को जाना था, वे लोग रास्ते में ही फंस गए. उनके पास पैदल जाने के सिवाए कोई चारा नहीं था.

ऐसे में भारी बर्फबारी के दौरान ही बारात पैदल रवाना हुई और 10 किलोमीटर की यात्रा तीन फीट बर्फ के बीच तय करते हुए मक्कूमठ गांव में लड़की के घर पहुंची. कठिन रास्ता तय करने के बाद दूल्हे रजनीश आखिरकार अपनी दुल्हनियां के साथ वापस अपने गांव लौट आए.

1
Back to top button