छत्तीसगढ़

कुसुमलता ने 500 से अधिक गर्भवतीओं का कराया सुरक्षित प्रसव, तारीफ करते नहीं थकते लोग

उप स्वास्थ्य केन्द्र कन्हारपुरी में पिछले 10 वर्षों से सेवा दे रही

उत्तर बस्तर (कांकेर) : प्रदेश के कांकेर जिले के सुदूर अंचलों में जाकर महिला हेल्थ वर्कर (एएनएम) अपने सहयोगियों के साथ स्वास्थ्य का अलख जगा रही है । पिछले पन्द्रह वर्षों से लगातार गांव-गांव जाकर सुरक्षित प्रसव कराने से लेकर जच्चा-बच्चा की दवाएं, सेहतमंद भोजन और टीकाकरण आदि की व्यवस्था में एएनएम कुसुमलता तत्पर रहती है ।

उप स्वास्थ्य केन्द्र कन्हारपुरी में तैनात महिला स्वास्थ्य कार्यकर्ता कुसुमलता जैन ने इसे बखूबी निभाती है। उप स्वास्थ्य केन्द्र कन्हारपुरी में पिछले 10 वर्षों से सेवा दे रही है। उन्होंने तकरीबन पांच सौ से अधिक सुरक्षित प्रसव कराया है । एएनएम कर्मचारी के रूप में नारायणपुर जिले के ओरछा विकासखण्ड के अबूझमाड़ के कच्चापाल जो पूरी तरह वनो से घिरा हुआ है । कच्चापाल नदी-पहाड़ से घिरे होने के बावजूद सुदुर वनांचल के गांव में सुरक्षित प्रसव एवं स्वास्थ्य के प्रति जिम्मेदारी निभा रही है। इसी तरह बीते वर्ष 2005 से लेकर अब तक नारायणपुर जैसे अतिसंवेदनशील क्षेत्र के अलावा कांकेर जिले के चारामा, लूलेगोंदी, जैसाकर्रा, कुलगांव, बोरगांव, गोवर्धनपारा, व्यासकोंगेरा, पुसवाड़ा, सारवण्डी, केवटीनटोला जैसे गांव में स्वास्थ्य सेवा देकर गांव के लोगों का इलाज की है।

तारीफ करते नहीं थकते गांव के लोगः- कन्हारपुरी उप स्वास्थ्य केन्द्र में इलाज के लिए पहुंचे गामीणों से हमने उप स्वास्थ्य केन्द्र में स्वास्थ्य की जानकारी लिया ग्रामीण कृष्णराम कांगे, सोनाबाई, निर्मला नायक, पुरूषोत्तम भोयर, तिहारूराम कोरेटी ने कहा कि उप स्वास्थ्य केन्द्र में पूर्व की भांति स्वास्थ्य के प्रति एएनएम के द्वारा किए गये कार्य सराहनीय हैं। गांव के लोग कांकेर या धनेलीकन्हार न जाकर उप स्वास्थ्य केन्द्र में ही इलाज कराते है। कुसुम की कार्यशैली व कुशल व्यवहार की जमकर तारीफ किया। ग्रामीणों ने कहा कि स्वास्थ्य कर्मचारी कुसुमलता जैन के द्वारा स्वच्छता अभियान, स्वास्थ्य परीक्षण शौचालय की प्रेरणा भी सराहनीय है ।

ग्रामीणों के स्वास्थ्य के लिए पूरी इमानदारी से अपना काम बखूबी करती है। नदियां और घाटियांे को पार कर रात में घने जंगलों के बीच से गुजरकर ग्रामीणों तक दवा लेकर पहुंचना और उनका इलाज करना आसान नहीं उनकी आत्मविश्वास और सेवा भावना के कारण यह कार्य आसानी से कर लेती है।

Summary
Review Date
Reviewed Item
कुसुमलता ने 500 से अधिक गर्भवतीओं का कराया सुरक्षित प्रसव, तारीफ करते नहीं थकते लोग
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags
advt

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.