बिरसा मुंडा जेल में रात भर करवटें बदलते रहे लालू, आज किसी से नहीं होगी मुलाकात

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और राष्ट्रीय जनता दल के प्रमुख लालू प्रसाद यादव का जेल से पुराना नाता रहा है. 1997 में चारा घोटाला सामने आने के बाद जेल जाने का उनका जो सिलसिला शुरू हुआ, उसी की आंच उन्हें शनिवार को एक बार फिर जेल ले गई.

बिरसा मुंडा जेल में रात भर करवटें बदलते रहे लालू, आज किसी से नहीं होगी मुलाकात

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और राष्ट्रीय जनता दल के प्रमुख लालू प्रसाद यादव का जेल से पुराना नाता रहा है. 1997 में चारा घोटाला सामने आने के बाद जेल जाने का उनका जो सिलसिला शुरू हुआ, उसी की आंच उन्हें शनिवार को एक बार फिर जेल ले गई.

चारा घोटाला से जुड़े देवघर अवैध निकासी केस में रांची की विशेष सीबीआई अदालत ने जैसे ही लालू यादव को दोषी करार दिया, उन्हें फौरन गिरफ्तार कर लिया गया. कोर्ट से उन्हें सीधे रांची स्थित बिरसा मुंडा जेल ले जाया गया.

हालांकि, बिरसा मुंडा जेल में लालू यादव को वीआईपी कैदियों की तरह रखा गया है. लेकिन जेल में उनकी पहली रात काफी उलझनों भरी रही. बताया जा रहा है कि लालू रात भर बेचैन दिखे और करवटें बदलते रहे.

सुबह उठने के बाद उन्हें चाय और बिस्किट दिया गया. इसके अलावा उन्हें भोजन में जेल परिसर में उगाई हुई सब्जी और रोटी दी जाएगी.

जेल में लालू यादव को जो कमरा दिया गया है, उसमें अटैच टॉयलेट बाथरूम है. कमरे में एक चौकी, कंबल, तकिया, मच्छरदानी है. कमरे में एक टीवी भी है. लालू यादव को कैदी नंबर 3351 दिया गया है.

इससे पहले तेजस्वी यादव ने जेल प्रबंधन को लालू को पहनने के लिए कुर्ता-पायजामा और गर्म कपड़ों के अलावा दवाई भी दी थी. जेल में लालू ने किसी से बात नहीं की. वे शांत दिखे.

लालू की रात तो बेचैनी में बीती ही, साथ ही उनका दिन भी आज अकेले ही गुजरेगा. दरअसल, रविवार होने की वजह से आज उन्हें किसी भी बाहरी व्यक्ति, नाते-रिश्तेदार से नहीं मिलने दिया जाएगा. अब सोमवार को सुबह 8 बजे से 12 बजे तक ही उनसे मुलाकात की जा सकेगी.

advt
Back to top button