Chhattisgarh

वन विभाग की बड़ी कार्यवाही, भारी मात्रा में सागौन और चिरान के लकड़ी बरामद

बलौदा बाज़ार/ भाठापारा। बलौदा बाजार वन मंडल के अंतर्गत आने वाले वन परिक्षेत्र अर्जुनी इस बार फिर सुमार में है हर बार की तरह इस बार भी बड़ी कार्रवाई करने में कोई कसर नहीं छोड़े हैं।

वन परिक्षेत्र अर्जुनी की ग्राम खैरा में पांच घरों में छापामार कार्यवाही किया गया जिसमें सागौन एवं अन्य चिरान प्रजातियों के लकड़ी बरामद किया। सागौन प्रजाति ज्यादातर है वहीं बिहारी के घर से खराद मशीन जप्त किया। सागौन में किसी भी प्रकार की अनुज्ञप्ति या अनुमति नहीं है।

मशीनीकरण से तैयार बेचने की अनुमति एवं खराद मशीन पलंग जिसको वन परिक्षेत्र अर्जुनी के द्वारा जप्त किया गया।

इसकी अनुमानित कीमत 35,8000 आंकी गई है। साथ ही वहीं बिहारी ग्राम खैरा के घरों से सागौन चिरान 116 नाग 1.072 घन मीटर एवं कसही चिरान 23 नग 0.142 घन मीटर, घनश्याम चिरान 53 नग 0.363 घन मीटर नीम साल चिरान 0.014 घन मीटर, भगउ चिरान 32 नग 0. 29 घन मीटर शोभाराम चिरान 82 नाग 0.859 घन मीटर, सिरशोभन 35 नग 0.382 घन मीटर जप्त कर बड़ी कार्रवाई किया है।

उपरोक्त कार्यवाही में सहायक परीक्षेत्र अधिकारी वन परिक्षेत्र अर्जुनी श्री लष्मी प्रसाद श्रीवास्तव, सहायक परिक्षेत्र अधिकारी थरगांव श्री सुरेश कुमार परिग्रहनी सहायक परिक्षेत्र अधिकारी महाराजी सुखराम छत्रे, सहायक परिक्षेत्र अधिकारी गिन्दोला संतोष चौहान ,संतराम ठाकुर ,रविंद्र कुमार पांडे, प्रेम चंद घृतलहरे, धर्म सिंह बरिहा, गोविंद निषाद ,खगेश्वर ध्रुव, कुमार आढीले ,चंद्रभान मन हरे, तृप्ति कुमार जयसवाल, राजेश्वर वर्मा ,गिरिजा कैवर्त,कृष्ण कुमार कुशवाहा एवं देवपुर वन परिक्षेत्र के कर्मचारियों का सराहनीय सहयोग रहा अपराध मे संलिप्त अपराधियों एक ही गांव के हैं।

सभी को भारतीय वन अधिनियम विरुद्ध की धारा 26 छत्तीसगढ़ कास्ट (विनियमन )चिरान छत्तीसगढ़ 1984 छत्तीसगढ़ कास्ट चिरान (विनियमन) संशोधन अधिनियम 2000 छत्तीसगढ़ काष्ठ चिरान (विनियमन) नियम 1984 छत्तीसगढ़ वनोपज व्यापार (विनियमन) अधिनियम 1969 छत्तीसगढ़ वनोपज व्यापार (विनियमन) काष्ठ चिरान 1973 के अंतर्गत कार्यवाही की।

इस बड़ी कार्यवाही के बाद वन ग्रामों में हलचल सी मच गई है वन परिक्षेत्र अर्जुनी प्रभारी श्री टी.आर. वर्मा और महाराजी सर्किल प्रभारी सुखराम छत्रे,गिन्दोला सर्किल प्रभारी संतोष चौहान की इस कार्यवाही में बड़ी भूमिका है

दिनेश मानिकपुरी

Summary
Review Date
Reviewed Item
वन विभाग की बड़ी कार्यवाही, भारी मात्रा में सागौन और चिरान प्रजातियों के लकड़ी बरामद
Author Rating
51star1star1star1star1star