स्वर्गीय हेमचंद यादव का छत्तीसगढ़ के लिए योगदान अविस्मरणीय : भूपेश बघेल

14 करोड़ 12 लाख रुपये की लागत से बनेगा प्रशासनिक भवन

रायपुर: मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज जिला मुख्यालय दुर्ग में स्वर्गीय हेमचंद यादव विश्वविद्यालय के प्रशासनिक भवन का भूमिपूजन किया। उन्होंने स्वर्गीय हेमचंद यादव के छत्तीसगढ़ के प्रति योगदान को स्मरण करते हुए कहा कि विधायक एवं मंत्री के रूप में उपलब्धि अविस्मरणीय रहेगी। विश्वविद्यालय के प्रशासनिक भवन तैयार हो जाने से काम मे काफी सहजता होगी।

मुख्यमंत्री ने पुराने दौर को याद करते हुए कहा कि पहले नागपुर विश्वविद्यालय या सागर विश्वविद्यालय विद्यार्थियों को जाना होता था। अब तकनीकी विषयों के भी विश्वविद्यालय छत्तीसगढ़ में हैं। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा उच्च शिक्षा को बेहतर बनाने हर संभव कार्य शासन द्वारा किया जाएगा।

लोक निर्माण मंत्री ताम्रध्वज साहू ने पोटिया क्षेत्र मैं मुख्यमंत्री का स्वागत करते हुए कहा कि स्वर्गीय हेमचंद यादव के नाम पर यह विश्वविद्यालय है। उन्होंने अपने सार्थक कार्य से जीवन मंे बड़ी उपलब्धि हासिल की।

विधायक और मंत्री के रूप में उन्होंने प्रदेश के विकास में महत्वपूर्ण योगदान दिया। विश्वविद्यालय के प्रशासनिक भवन के भूमिपूजन होने से जल्द ही विश्वविद्यालय के प्रशासनिक कार्यों में सुविधा मिलेगी।

इस मौके पर विधायक अरुण वोरा ने भी सम्बोधित किया। कुलपति दिलीप वासनीकर ने विश्वविद्यालय के प्रशासकीय भवन की विस्तृत जानकारी देते हुए बताया कि 40 एकड़ क्षेत्र में फैला यह भवन 5 मंजिला होगा।

इसके आरम्भ होने से विद्यार्थियों की सुविधा बढ़ेगी। इस विश्वविद्यालय से 128 महाविद्यालय सम्बद्ध है। जिनमें से 61 शासकीय तथा 67 अशासकीय हैं। इस मौके पर विधायक एवं महापौर देवेंद्र यादव एवं अन्य गणमान्य अतिथि उपस्थित थे।

Back to top button