मशहूर शायर मुनव्वर राना के घर देर रात यूपी पुलिस ने दी दस्तक

एक वीडियो के जरिए फौजिया राना ने सभी से मदद की अपील की

लखनऊ:यूपी पुलिस शायर मुनव्वर राना के बेटे तबरेज को गिरफ्तार करने के लिए गुरूवार को रात करीब 2 बजे पुलिस हुसैनगंज के लालकुआं स्थित एफआई टावर ढींगरा अपार्टमेंट में उनके फ्लैट पर पहुंची. इस दौरान पुलिस ने छापेमारी की। लखनऊ और रायबरेली पुलिस ने फ्लैट का कोना-कोना छान मारा लेकिन तबरेज घर पर नहीं मिला.

अचानक से यूं पुलिस का आना घरवालों को हैरान कर गया और कई तरह के सवाल भी पूछे गए. लेकिन आरोप है कि पुलिस ने कुछ भी बताने से इनकार कर दिया और सिर्फ घर की तलाशी लेते रहे. मुनव्वर राना की बेटी और कांग्रेस नेता फौजिया राना ने प्रशासन पर बदले की कार्रवाई का आरोप लगा दिया है. कहा गया है कि उनके परिवार को परेशान किया जा रहा है, डराया जा रहा है.

एक वीडियो के जरिए फौजिया राना ने सभी से मदद की अपील की है. वे कह रही हैं कि हम लोगों को बहुत परेशान किया जा रहा है. मेरे बीमार पापा को भी परेशान किया गया. प्रशासन हमारे पापा औऱ हम लोगों से बदला ले रही है. पुलिस बिना सर्च वारंट के घर के अंदर तक पहुंच आई.

पुलिस ने घर में बनी लाइब्रेरी की तलाशी ली और मेरे पिता मुनव्वर राना को घर के बाहर बैठा दिया. दावा ये भी किया गया है कि पुलिस द्वारा फौजिया की 16 वर्षीय बेटी का मोबाइल फोन जब्त कर लिया गया है. इस बारे में फौज़िया राना का कहना है कि, मेरी बेटी के कई फोटो और पर्सनल चीजें उस मोबाइल में थी. पुलिस ऐसे कैसे मोबाइल ले जा सकती है.

शायर ने पुलिस पर लगाया गंभीर आरोप

देर रात हुई इस घटना पर मुनव्वर राना ने भी अपनी प्रतिक्रिया दी है. उनकी तरफ से जोर देकर कहा गया है कि पुलिस ने गुंडागर्दी की है. वे कहते हैं कि पुलिस ने मुझसे कहा कि,आप हटिए आपसे कुछ भी लेना देना नहीं है. मैंने कहा मैं उसका बाप हूं,मेरी यही गलती है कि मैंने उसे पैदा किया है, ऐसे कैसे हट जाऊं?

मैंने पुलिस से पूछा कि आपके पास कोई सर्च वारंट है तो बताइए. उन्होंने कुछ नहीं बोला और घर में गुंडागर्दी करते हुए इधर उधर जाने लगे. रास्ता रोक दिया,न मीडिया को आने दिया,न वकीलों को आने दिया,ये सरासर गुंडागर्दी है.

उन्होंने आगे कहा कि ये तो बिकरू कांड है,मुझे इन पुलिस में से कोई मार भी देता और न भी मारता तो मेरे हालात ऐसे हैं कि मैं मर जाता,लेकिन अगर मैं मरता तो सब पुलिस वाले दोषी होते. दिखाने के लिए पुलिस के साथ एक महिला पुलिस थी जो हर कमरे में गई.

मेरी बेटी (फौज़िया) जो बिहार से आई है उसकी बेटी का मोबाइल भी ले लिया. अब ये देर रात तलाशी क्यों ली गई है, इसका कारण स्पष्ट नहीं हो पाया है. पुलिस की तरफ से भी कोई बयान नहीं जारी किया गया है. लेकिन कुछ दिन पहले मुनव्वर राना के बेटे की गाड़ी पर फायरिंग की घटना को अंजाम दिया गया था.

मुनव्वर के बेटे पर हुआ था हमला

मुनव्वर राना के बेटे तबरेज राना पर दिन-दहाड़े बाइक सवार बदमाशों ने फायरिंग कर दी थी. बदमाशों ने त्रिपुला के पेट्रोल पंप पर दो राउंड फायर किए, जिसके बाद दोनों गोली उनकी गाड़ी में लगी थी. हमलावर वहां से भागने में कामयाब रहे थे.

मौके पर पहुंची पुलिस ने चश्मदीदों के बयान दर्ज किए और सीसीटीवी फुटेज के आधार पर बदमाशों की तलाश भी शुरू कर दी. अब उस घटना के कुछ दिन बाद यूपी पुलिस ने मुनव्वर राना के घर पर देर रात यूं दस्तक दी.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button