छत्तीसगढ़

भोरमदेव महोत्सव का शुभारंभ: भोरमदेव महोत्सव की ख्याति दूर-दूर तक पहुंचाना है- कमिश्नर

रायपुर: छत्तीसगढ़ के सतपुड़ा पर्वत की मैकल पर्वत श्रृंखला से घिरे सुरम्यवादियों में स्थित ऐतिहासिक एवं पुरातात्विक महत्व के सुप्रसिद्व भोरमदेव मंदिर के प्रांगण में दो दिवसीय भोरमदेव महोत्सव का बुधवार की रात शुभारंभ किया गया। शुभारंभ समारोह के मुख्य अतिथि दुर्ग संभाग के कमिश्नर दिलीप वासनिकर और विशिष्ट अतिथि संस्कृति विभाग के संचालक अनिल कुमार साहू थे।

जिला प्रशासन द्वारा आयोजित इस समारोह में का शुभारंभ कमिश्नर ने दीप प्रज्जवलित कर तथा पूजा अर्चना कर किया। उन्होेंने कहा कि भोरमदेव का मंदिर ऐतिहासिक, पुरातात्विक और धार्मिक महत्व का है। संस्कृति विभाग और जिला प्रशासन द्वारा आयोजित समारोह के माध्यम से इसकी ख्याति को दूर-दूर तक पहुंचाना है। उन्होंने श्रद्धालुओं को शुभकामनाएं देते हुए प्रदेश की तरक्की और खुशहाली की कामना की।

भोरमदेव महोत्सव का शुभारंभ: भोरमदेव महोत्सव की ख्याति दूर-दूर तक पहुंचाना है- कमिश्नर

संचालक संस्कृति अनिल कुमार साहू ने कहा कि भोरमदेव मंदिर की पहचान राष्ट्रीय स्तर पर है। उन्होंने भोरमदेव को जिले का गौरव बताया और भव्य आयोजन के लिए जिला प्रशासन को धन्यवाद दिया। कलेक्टर अवनीश कुमार शरण ने कहा कि भोरमदेव महोत्सव का आयोजन कई वर्षो से होते आ रहा है।

जन आस्था को ध्यान में रखकर यह आयोजन किया गया है। उन्होंने बताया कि इस समारोह में कबीरधाम जिले के ब्लॉक, अनुभाग एवं जिले के साथ ही छत्तीसगढ़ के विभिन्न जिलों से कलाकार अपनी प्रस्तुति दे रहे हैं।

उन्होंने महोत्सव में उपस्थित विशाल जनसमूह से लोकतंत्र को मजबूत बनाने के लिए अपने मताधिकार का उपयोग करने की अपील की। जिला पंचायत के सीईओ कुंदन कुमार ने मतदाताओं को मतदान दिवस 18 अप्रैल को मतदान करने की शपथ दिलाई।

Tags
Back to top button